अंतराष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष हुआ हुआ सेमिनार

2

फरीदाबाद:– महिला दिवस महिलाओं के सामान में अंतराष्ट्रीय स्तर पर आयोजित होने वाला वह दिन जो सपूर्ण विश्व महिलाओं के सामान का दिवस होता है वैसे इस दिन अलग अलग जगह अलग अलग प्रकार से इस दिवस का आयोजन किया जाता है परंतु फरीदाबाद शहर की समाज सेवी संस्था संभार्य फाउंडेशन, जज्बा फाउंडेशन , सोनूनव चेतना फाउंडेशन, एनजीओ गुरुकुल, संभार्य सोशल फाउंडेशन और आरंभ एक नई शुरुआत के संयुक्त तत्वाधान में गांव छपरौला के सरकारी स्कूल में किशोरियों के साथ महिला दिवस के उपलक्ष में माहवारी संबंधी जागरूकता सेमिनार का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में परिवहन मंत्री जी के सेक्टरी ब्रिजमोहन जी मौजूद रहे कार्यक्रम की अध्यक्षता मुख्य अध्यापक श्रीमती गीता देवी जी ने की। सेमिनार के दौरान छत्राओं को माहवारी के दौरान होने वाले मानसिक और शारीरिक तनाव संबंधी बातें की गई उनसे उनकी समस्याओं के बारे में जाना गया और उन्हें इस बारे में अपने माँ बाप सहेलियों और स्कूल में अपनी अध्यापिकाओं से बात करने के लिए प्रेरित किया गया।सेमिनार में जज्बा फाउंडेशन ,आरम्भ एक नई शुरुआत, संभार्य फाउंडेशन, सोनू नव चेतना फाउंडेशन और संभार्य सोशल फाउंडेशन के सहयोग से विद्यालय की 200 छात्राओं को एक साल तक के लिए सैनिटरी पैड दिए गए।

सेमिनार को एनजीओ गुरुकुल की संस्थापक गायत्री चतुर्वेदी ने सम्भोदित किया और छात्रों से उनकी सहेली की तरह बात की , सेमिनार के दौरान उन्होंने छात्राओं को बताया माहवारी कोई शर्म की बात नही बल्कि औरत होने का सबसे बड़ा वरदान है इसी वरदान से सृष्टि का विस्तार होता है और हमे इसे शर्मिंदगी की तरह नही बल्कि खुशी से अपनाना चाहिए। जज्बा फाउंडेशन के अध्यक्ष हिमांशु जी ने बताया कि पिछले 4 साल से संस्थाओं ने स्कूल को गोद लिया हुआ है और प्रतिवर्ष लड़कियों के लिए सैनिटरी पैड दिए जाते हैं।

संभार्य फाउंडेशन के अध्यक्ष ने बताया संस्थाओं का मुख्य उद्देश्य स्कूल को आदर्श स्कूल बनाना है।
कार्यक्रम में मुख्य रूप से अभिषेक देशवाल, बृजमोहन शर्मा, हिमांशु भट्ट, राहुल वर्मा, किशन के साथ स्कूल की अध्यापिका आरती और रेखा जी मौजूद रही।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here