मुख्यमंत्री मनोहर का नशे के खिलाफ नेतृत्व रहा सफल .

0

चंडीगढ़/अतुल्यलोकतंत्र न्यूज़◆ हरियाणा के CM मनोहर लाल द्वारा गत दिनों पहले चंडीगढ़ में युवाओं में नशे की प्रवृति पर अकुंश लगाने के लिए उत्तरी राज्यों के मुख्यमंत्रियों को एक मंच पर लाने में हरियाणा का नेतृत्व उस समय सफल रहा, जब पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्द्र सिंह सहित अन्य राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने इस मुद्दे पर सांझा रणनीति अपनाने के लिए अपनी सहमति दिखाई।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा राजनीति से ऊपर उठकर कार्य करने की यह इच्छा शक्ति के कारण यह कार्यक्रम सफल हुआ और युवाओं को इसका संदेश कई समाचार पत्रों के माध्यम से प्राप्त हुआ। मुख्यमंत्री का यह जनहित में लिए गये कई फैसलों में से एक है।

मुख्यमंत्री की सोच है कि जब हमारी युवा पीढ़ी व्यस्त होगी तो नशे से दूर रहेगी। हरियाणा सरकार ने नई खेल नीति बनाई और इसके तहत हर गांव में व्यायामशाला खोलने का प्रस्ताव तैयार किया गया। रियो ओलम्पिक के बाद राष्ट्रमण्डल तथा अब जकार्ता में चल रहे 18वे एशियाड खेलों में प्रदेश के खिलाड़ी अनेक मेडल जीत रहे हैं जोकि न केवल हरियाणा बल्कि देश के लिए गौरवांवित विषय है।
सक्षम योजना के माध्यम से भी मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने युवाओं को व्यस्तता की ओर जोडऩे का प्रयास किया है और अब तक 45 हजार से अधिक युवाओं ने इस योजना के तहत अपना पंजीकरण करवाया है। इस योजना के तहत पढ़े-लिखे युवाओं को 100 घंटे काम के बदले 7500 से 9000 रुपये मासिक का मानदेय दिया जाता है।

अपनी सलाह दे (देश की आवाज)

Please enter your comment!
Please enter your name here