Saturday, January 28, 2023
HomeIndiaDelhiशताब्दी, तेजस, गतिमान ट्रेन का किराया 25% कम करने की तैयारी में...

शताब्दी, तेजस, गतिमान ट्रेन का किराया 25% कम करने की तैयारी में रेलवे

New Delhi/Atulya Loktantra : शताब्दी एक्सप्रेस, तेजस एक्सप्रेस और गतिमान एक्सप्रेस में सफर करने वाले यात्रियों को भारतीय रेलवे किराये में कटौती का तोहफा देने जा रहा है. भारतीय रेलवे इन ट्रेनों में 25 फीसदी किराया कम करने की योजना को लागू करने जा रहा है.

दरअसल रेलवे ने रोडवेज और सस्ती एयरलाइन से मिल रही कड़ी प्रतिस्पर्धा के चलते यह फैसला लिया है. इन ट्रेनों का किराया ज्यादा होने की वजह से यात्री सफर करने से परहेज करते हैं. रेलवे का एक ही मकसद है कि इन ट्रेनों में जो सीटें खाली रह जाती हैं, उसे भरा जाए. हालांकि किस रूट पर इसे लागू किया जाएगा यह फैसला उस रेलवे जोन के मुख्य कमर्शियल मैनेजर लेंगे.

रेलवे एक अधिकारी के मुताबिक जिन ट्रेनों की आधी सीटें खाली रह जाती हैं उनमें ये रियायत दी जाएगी. यह रियायत वातानूकुलित कुर्सी यान, एक्जीक्यूटिव कुर्सी यान सीटों के आधार पर किराये में दी जाएगी और आरक्षण शुल्क, सुपरफास्ट शुल्क और अन्य अलग से लगाए जाएंगे.

रेलवे के मुताबिक पिछले दिनों शताब्दी, गतिमान और तेजस एक्सप्रेस जैसी ट्रेनों में 50 फीसदी से ज्यादा सीटें खाली रहने के आंकड़े मिले थे. जिसके बाद रियायत देकर उन सीटों भरने की कोशिश जाएगी. सीटें भरने से रेलवे का रेवेन्यू बढ़ेगा.

जिस ट्रेन में यह छूट लागू होगी उस ट्रेन में अन्य सभी रियायतें नहीं मिलेंगी, साथ ही डायनेमिक फेयर भी नहीं लगेगा. रेलवे ने जोन को 30 सितंबर तक ऐसी ट्रेनों की सूची तैयार करने के लिए कहा गया है.

गौरतलब है कि पिछले कुछ वर्षों में रेलवे के किरायों में बढ़ोतरी ही देखी गई थी. खासतौर से प्रीमियम ट्रेनों और एसी के किराये में खासी बढ़ोतरी हुई थी. जिसके मुकाबले उस रूट पर प्लेन का किराया या तो बराबर है या फिर कम ही है. जिस वजह से यात्री रेल के मुकाबले प्लेन से सफर करना पसंद करते हैं.

Deepak Sharma
Deepak Sharma
इस न्यूज़ पोर्टल अतुल्यलोकतंत्र न्यूज़ .कॉम का आरम्भ 2015 में हुआ था। इसके मुख्य संपादक पत्रकार दीपक शर्मा हैं ,उन्होंने अपने समाचार पत्र अतुल्यलोकतंत्र को भी 2016 फ़रवरी में आरम्भ किया था। भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से इस नाम को मान्यता जनवरी 2016 में ही मिल गई थी । आज के वक्त की आवाज सोशल मीडिया के महत्व को समझते हुए ही ऑनलाईन न्यूज़ वेब चैनल/पोर्टल को उन्होंने आरंभ किया। दीपक कुमार शर्मा की शैक्षणिक योग्यता B. A,(राजनीति शास्त्र),MBA (मार्किटिंग), एवं वे मानव अधिकार (Human Rights) से भी स्नातकोत्तर हैं। दीपक शर्मा लेखन के क्षेत्र में कई वर्षों से सक्रिय हैं। लेखन के साथ साथ वे समाजसेवा व राजनीति में भी सक्रिय रहे। मौजूदा समय में वे सिर्फ पत्रकारिता व समाजसेवी के तौर पर कार्य कर रहे हैं। अतुल्यलोकतंत्र मीडिया का मुख्य उद्देश्य राष्ट्रीय सरोकारों से परिपूर्ण पत्रकारिता है व उस दिशा में यह मीडिया हाउस कार्य कर रहा है। वैसे भविष्य को लेकर अतुल्यलोकतंत्र की कई योजनाएं हैं।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments