रेलवे की अपील : हम युद्धकाल में भी नहीं रुके थे, गंभीरता को समझिए

0

New Delhi/Atulya Loktantra : कोरोना वायरस के चलते देश में एक तरह से भय का माहौल है. देश के 30 राज्यों में लॉकडाउन है, कई जिलों में कर्फ्यू भी लगाया गया है. ऐसा पहली बार हुआ है जब इतनी बड़ी संख्या में लोगों को घरों के अंदर रहने के लिए कहा जा रहा है. कोरोना के डर के चलते भारतीय रेल भी बंद है, ऐसे में अब रेल मंत्रालय की तरफ से लोगों से भी घरों में रहने की अपील की जा रही है.

सोमवार रात को रेल मंत्रालय की ओर से ट्वीट कर लिखा गया, ‘भारतीय रेल कभी युद्धकाल में भी नहीं रुकी थी, कृपया परिस्थतियों की गंभीरता को समझिए. अपने घर में ही रहिए.’

आपको बता दें कि देश के इतिहास में ऐसा पहली बार ही हुआ है, जब पैसेंजर ट्रेन को बंद कर दिया गया हो. सभी ट्रेन कैंसिल कर दी गईं और सिर्फ मालगाड़ी को चलने की इजाजत दी जा रही है. ऐसे में अब खुद रेलवे लोगों से कह रहा है कि आप घर में ही रहिए.

हवाई सेवा, मेट्रो और बस सर्विस भी बंद
बता दें कि सिर्फ रेल सर्विस ही नहीं बल्कि देश के अलग-अलग शहरों में चलने वाली मेट्रो को भी बंद कर दिया गया है. दिल्ली, नोएडा, कोलकाता, बेंगलुरु, मुंबई, कोच्चि, नागपुर समेत अन्य मेट्रो की सर्विस को 31 मार्च तक के लिए बंद किया गया है.

इसके अलावा मंगलवार देर रात से देश में स्थानीय हवाई सेवा पर भी रोक लगा दी गई थी. इससे पहले ही अंतरराष्ट्रीय हवाई सेवा पर रोक लगा दी गई थी और विदेशी यात्रियों के भारत आने पर रोक लग चुकी है.

कई राज्य सरकारों ने कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए अंतरराज्यीय बस सर्विस को रोका है, कुछ राज्यों ने अपने क्षेत्र में ही चलने वाली बस सर्विस को भी बंद किया है. गौरतलब है कि भारत में कोरोना वायरस के मामलों की संख्या 500 के करीब पहुंच गई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here