राहुल गांधी ने बिना किसी शर्त के मांगी माफी, केस को बंद करने की मांग

नई दिल्ली/अतुल्यलोकतंत्र : कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अवमानना मामले में सुप्रीम कोर्ट से बिना किसी शर्त के माफी मांगी है। उन्हें देश की सर्वोच्च अदालत में हलफनामा (एफिडेविट) दाखिल किया है। उन्होंने कोर्ट से गुहार लगाई है कि अब अवमानना मामले को बंद कर देना चाहिए। इस मामले पर अब 10 मई को सुनवाई होगी।

राहुल ने पूर्व में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए बयान दिया था कि अब तो सुप्रीम कोर्ट ने भी मान लिया कि चौकीदार चोर है। राहुल ने माफीनामे में कहा है कि कोर्ट का अपमान करने की उनकी कोई मंशा नहीं थी। न ही उन्होंने जानबूझकर ऐसा किया और न ही वे अदालत की न्यायिक प्रक्रिया में किसी तरह की बाधा पहुंचाना चाहते थे। भूलवश उनसे ये गलती हो गई।

लिहाजा इसके लिए वे क्षमा चाहते हैं। उनके बिना शर्त माफीनामा को कोर्ट स्वीकार करते हुए उन्हें इस भूल के लिए क्षमा करे। साथ ही कोर्ट इस माफीनामे को स्वीकार कर केस को बंद करे। उल्लेखनीय है कि सुप्रीम कोर्ट ने दो दिन पहले कहा था कि राफेल लड़ाकू विमान सौदे पर उसके फैसले पर पुनर्विचार के लिए दायर याचिकाओं और प्रधानमंत्री के खिलाफ ‘चौकीदार चोर है’ टिप्पणी गलत तरीके से सुप्रीम कोर्ट के हवाले से कहने के मामले में राहुल के खिलाफ अवमानना याचिका पर 10 मई को एकसाथ सुनवाई की जाएगी।

Leave a Comment