अगर मदद की है जरूरत तो इन नंबरों पर करें कॉल, लेकिन बाहर न निकलें

0

New Delhi/Atulya Loktantra : कोरोना वायरस की बीमारी महामारी बन चुकी है. देश में लॉकडाउन लागू है. 21 दिन की अवधि पूरी होने के बाद ढील के आसार थे, लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने और सख्ती के साथ लॉकडाउन 3 मई तक बढ़ाने का ऐलान कर दिया. लॉकडाउन के कारण कंपनियां और व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद हैं, जिससे अपने गांव-घर से दूर रोजी-रोजगार की तलाश में शहरों का रुख करने वाले श्रमिकों के सामने बड़ी समस्या खड़ी हो गई है.

अब श्रम मंत्रालय ने प्रवासी मजदूरों की वेतन संबंधी समस्याओं के समाधान के लिए वर्कर्स हेल्पलाइन की शुरुआत की है. वेतन को लेकर किसी भी तरह की समस्या होने की स्थिति में श्रमिक हेल्पलाइन से संपर्क कर अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं. श्रम विभाग इनकी समस्याओं का तत्काल समाधान कराएगा. इसके लिए संबंधित अधिकारियों के फोन नंबर भी जारी किए गए हैं.

देश के 20 क्षेत्रीय केंद्रों पर इसकी शुरुआत की गई है. गुजरात, दादर नगर हवेली के साथ ही दमन और दीव क्षेत्र के मजदूर अहमदाबाद क्षेत्रीय केंद्र के हेल्पलाइन नंबरों पर संपर्क कर सकते हैं. राजस्थान के लिए अजमेर, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, अंडमान और निकोबार के मजदूरों के लिए आसनसोल और कोलकाता, कर्नाटक के लिए बेंगलुरु, ओडिशा के लिए भुवनेश्वर, हिमाचल प्रदेश, जम्मू और कश्मीर, हरियाणा, पंजाब, चंडीगढ़, लद्दाख, के लिए चंडीगढ़ क्षेत्रीय केंद्र पर हेल्पलाइन शुरू की गई है.

इसी तरह तमिलनाडु और पुडुचेरी के लिए चेन्नई, केरल और लक्षद्वीप के लिए कोचीन, उत्तराखंड और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के लिए देहरादून, दिल्ली के लिए दिल्ली, झारखंड के लिए धनबाद क्षेत्रीय केंद्र में हेल्पलाइन सेवा शुरू की गई है.

असम, मिजोरम, मणिपुर, नागालैंड, मेघालय, अरुणाचल प्रदेश और त्रिपुरा के मजदूर गुवाहाटी, तेलंगाना और आंध्र प्रदेश के साथ ही पुडुचेरी के कुछ इलाकों के मजदूर हैदराबाद क्षेत्रीय केंद्र, मध्य प्रदेश के मजदूर जबलपुर, पश्चिमी उत्तर प्रदेश को छोड़कर अन्य इलाकों के मजदूर कानपुर क्षेत्रीय केंद्र की हेल्पलाइन पर संपर्क कर सकते हैं.

महाराष्ट्र के श्रमिकों के लिए मुंबई और नागपुर क्षेत्रीय केंद्र, बिहार के मजदूरों के लिए पटना, छत्तीसगढ़ के मजदूरों के लिए रायपुर क्षेत्रीय केंद्र पर हेल्पलाइन सेवा की शुरुआत की गई है. बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लॉकडाउन का ऐलान करते हुए किसी भी कर्मचारी का वेतन नहीं काटने की अपील की थी.

अपनी सलाह दे (देश की आवाज)

Please enter your comment!
Please enter your name here