उच्च न्यायालय के जज वी.चितंबरेश के ब्यान पर पैदा हुआ घमासान

New Delhi/Atulya Loktantra : उच्च न्यायालय के जज के एक बयान पर विवाद पैदा हो गया है। उच्च न्यायालय के जज वी. चितंबरेश ने एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि ब्राह्मणों का दो बार जन्म होता है। पूर्व जन्मों के कर्मों के आधार पर ब्राह्मणों का जन्म दो बार होता है और ब्राह्मणों में तमाम सद्गुण रहते हैं। उनका यह बयान काफी चर्चा का विषय बना हुआ है।

संस्कृति और कानून मंत्री ए के बालन ने कहा है कि कोच्चि में सार्वजनिक समारोह में केरल उच्च न्यायालय के जज चिदंबरेश द्वारा की गई टिप्पणी “अनुचित” है। बालन ने कहा कि उच्च न्यायालय के न्यायाधीश के पद पर रहते हुए व्यक्तिगत राय व्यक्त नहीं की जानी चाहिए थी।

यह बयान जज वी चितंबरेश ने केरल ब्राह्मण सभा की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कही। जज वी चितंबरेश ने ब्राह्मणों के लिए आर्थिक आधार आरक्षण की वकालत कर नई बहस भी छेड़ने का प्रयास किया।

Leave a Comment