देश की सेनाओं को आधुनिक और मजबूती देने के लिए सरकार प्रयासरत है – राष्ट्रपति

अतुल्यलोकतंत्र/नई दिल्ली: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद संसद के संयुक्त सत्र को संबोधित करते हुए महात्मा गांधी की 150 जयंती वर्ष में संसद के पहले सत्र को संबोधित करने पर हर्ष जताया और नवनिर्वाचित सांसदों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि 61 करोड़ वोटरों ने नया कीर्तिमान स्थापित किया और देश का मान बढ़ाया है। चुनाव में महिलाओं की भागीदारी भी पुरुषों के बराबर रही है। राष्ट्रपति ने लोकसभा के नए लोकसभा अध्यक्ष को भी बधाई दी।

राष्ट्रपति ने कहा कि देश की सेनाओं को आधुनिक और मजबूती देने के लिए सरकार प्रयासरत हैं। राफेल और अपाचे विमान जल्द ही हमारी वायुसेना का हिस्सा होंगे। उन्होंने कहा कि नेशनल वॉर मेमोरियल शहीदों को राष्ट्र की श्रद्धांजलि है, पुलिस मेमोरियल भी इसी की एक मिसाल है। राष्ट्रनिर्माताओं की स्मृतियों को संजोकर रखना भी हमारी काम है। लालकिले में म्यूजियम बनाया गया है जिसमें स्वतंत्रता सैनानियों को याद किया गया है। राष्ट्रपति ने कहा कि देश के हर हिस्सों में कहीं न कहीं चुनाव होता रहता है और इसी वजह से समय की मांग है कि एक राष्ट्र एक चुनाव की व्यवस्था लाई जाए ।

राष्ट्रपति कोविंद ने कहा कि इस बार 78 महिला सांसदों का चुना जाना नए भारत के तस्वीर प्रस्तुत करता है। भारत की विविधताएं इस सत्र में दिख रही हैं क्योंकि इस बार कई क्षेत्रों से सदस्य चुनकर आए हैं। खेल, शिक्षा, वकालत, फिल्म, समाज सेवा हर क्षेत्र से आए लोग यहां मौजूद हैं। उन्होंने कहा कि देश की जनता ने बहुत की स्पष्ट जनादेश दिया है और पहले कार्यकाल के मूल्यांकन के बाद दूसरी बार बड़ा जनादेश दिया है, 2014 से पहले के वातावरण से सभी देशवासी परिचित है और देश को निराशा के माहौल का निकाला है। मेरी सरकार ने सबका साथ-सबका विकास के नारे पर काम किया है, जहां किसी के साथ भेदभाव नहीं है।

Leave a Comment