Monday, January 30, 2023
HomeIndiaDelhiदिल्ली : कल जिस इमारत में आग लगने से 43 लोगों की...

दिल्ली : कल जिस इमारत में आग लगने से 43 लोगों की हुई मौत, आज फिर उसी बिल्डिंग में लगी आग

New Delhi/Atulya Loktantra : दिल्ली में रविवार को जिस इमारत में आग लगने से 43 लोगों की मौत हो गई थी, सोमवार सुबह उसी बिल्डिंग में फिर आग लग गई. आग लगने की जानकारी मिलने के बाद फायर ब्रिगेड की चार गाड़ियों ने मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पा लिया. वहीं, दिल्ली पुलिस ने इमारत के मालिक और उसके प्रबंधक को रविवार को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने बताया कि इमारत के मालिक रेहान के खिलाफ भारतीय दंड संहिता (भादंसं) की धारा 304 (गैर इरादतन हत्या) और 285 (आग के संबंध में लापरवाह रवैया) के तहत मामला दर्ज किया है. उन्होंने बताया कि उसके प्रबंधक की पहचान फुरकान के तौर पर की गई है. दोनों को राष्ट्रीय राजधानी से ही गिरफ्तार किया गया.

दमकल अधिकारियों ने कहा कि चार मंजिला इमारत में कई अवैध निर्माण इकाइयां थीं और ये अग्नि सुरक्षा संबंधी मंजूरी के बिना ही चल रहीं थीं. पुलिस के मुताबिक, पूछताछ के दौरान यह पता चला कि इमारत के ज्यादातर हिस्से पर मालिकाना हक रेहान का था और उसने दूसरे लोगों को इसे किराए पर दिया हुआ था. उसके भाइयों से भी पूछताछ की जा रही है क्योंकि ऐसा संदेह है कि उनमें से एक का इस इमारत में सह-स्वामित्व है. पुलिस ने कहा कि इमारत के प्रत्येक तल पर कम से कम दो निर्माण इकाइयां थीं और कुछ पर चार से ज्यादा इकाइयां चल रहीं थी.

ऐसा मालूम चला है कि एक इकाई में बड़े पैमाने पर दीवार पर टांगे जाने वाले शीशे बनाए जाते थे, एक में स्कूल बैग की सिलाई का काम होता था और एक में टोपी बनाने का काम होता था. पुलिस ने कहा कि वह इन इकाइयों को चलाने वाले लोगों और किराए पर इस जगह को लेने वालों की तलाश कर रही है. साथ ही पुलिस यह भी पता लगाएगी कि इन कारखानों के पास उत्तरी दिल्ली नगर निगम (एनडीएमसी) से उचित मंजूरी एवं लाइसेंस थे या नहीं.

वहीं, जिस चार मंजिला इमारत में रविवार को भीषण आग लगी थी, नगर निगम ने उसका पिछले ही हफ्ते ‘‘सर्वेक्षण” किया था लेकिन ऊपर के तलों पर ताला लगा होने की वजह से पूरी इमारत का निरीक्षण नहीं हो पाया था. आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी. एक सूत्र ने कहा कि अधिकारी फिर से इमारत का दौरा करने वाले थे और तदनुसार ऊपर के तलों का निरीक्षण करके कारण बताओ नोटिस जारी करते. अधिकारियों द्वारा की गई प्रांरभिक जांच में सामने आया कि यह आग इमारत की दूसरी मंजिल पर शॉर्ट सर्किट होने की वजह से लगी. एक आधिकारिक सूत्र ने दावा किया, “निगम अधिकारियों ने पिछले हफ्ते इमारत का सर्वेक्षण किया था लेकिन ऊपर की मंजिलों पर ताला लगा हुआ था जिससे पूरी इमारत का निरीक्षण नहीं हो पाया.”

यह इमारत दिल्ली कानून (विशेष प्रावधान) कानून, 2006 के तहत आती है जो अनधिकृत निर्माण को सील होने से बचाता है. सूत्र ने कहा, ‘अधिकारियों को अगर यह इमारत दिल्ली के मास्टर प्लान के प्रावधानों के तहत घरेलू इकाई के तौर पर अनुमेय नहीं लगती तो इसे बंद कर दिया जाता.’

Deepak Sharma
Deepak Sharma
इस न्यूज़ पोर्टल अतुल्यलोकतंत्र न्यूज़ .कॉम का आरम्भ 2015 में हुआ था। इसके मुख्य संपादक पत्रकार दीपक शर्मा हैं ,उन्होंने अपने समाचार पत्र अतुल्यलोकतंत्र को भी 2016 फ़रवरी में आरम्भ किया था। भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से इस नाम को मान्यता जनवरी 2016 में ही मिल गई थी । आज के वक्त की आवाज सोशल मीडिया के महत्व को समझते हुए ही ऑनलाईन न्यूज़ वेब चैनल/पोर्टल को उन्होंने आरंभ किया। दीपक कुमार शर्मा की शैक्षणिक योग्यता B. A,(राजनीति शास्त्र),MBA (मार्किटिंग), एवं वे मानव अधिकार (Human Rights) से भी स्नातकोत्तर हैं। दीपक शर्मा लेखन के क्षेत्र में कई वर्षों से सक्रिय हैं। लेखन के साथ साथ वे समाजसेवा व राजनीति में भी सक्रिय रहे। मौजूदा समय में वे सिर्फ पत्रकारिता व समाजसेवी के तौर पर कार्य कर रहे हैं। अतुल्यलोकतंत्र मीडिया का मुख्य उद्देश्य राष्ट्रीय सरोकारों से परिपूर्ण पत्रकारिता है व उस दिशा में यह मीडिया हाउस कार्य कर रहा है। वैसे भविष्य को लेकर अतुल्यलोकतंत्र की कई योजनाएं हैं।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments