बर्ड फ्लू : चिकन खाने में खतरा नहीं लेकिन बरतें सावधानियां

0

New Delhi/Atulya Loktantra : देश के कई राज्यों में इस वक्त बर्ड फ्लू ने आफत मचा दी है. बेजुबां पक्षी अब इंसानों के लिए खतरा बनते दिख रहे हैं. मध्य प्रदेश, हरियाणा, गुजरात और केरल जैसे राज्यों में अभी तक कई मामले रिकॉर्ड किए जा चुके हैं. ऐसे में अब सबसे बड़ा सवाल ये है कि क्या अभी इंसानों को खतरा होना शुरू हो गया है? क्या चिकन खाने से भी इंसानों में बर्ड फ्लू फैल जाएगा? ऐसी ही शंकाओं को एक्सपर्ट ने दूर किया है.

Central Poultry Development Organization की डायरेक्टर डॉक्टर कामना ने जानकारी दी कि लोगों को अभी सावधानी बरतनी होगी. कोशिश करनी होगी कि किसी फार्म में ना जाएं, ताकि खतरा कम हो.

डॉ. कामना के मुताबिक, अंडा-चिकन में भी सावधानी बरतनी चाहिए अगर वो अच्छे तरीके से कुक होगा तो परेशानी नहीं होगी. लेकिन अगर आप बाहर से मीट ला रहे हैं, तो बार-बार हाथ भी धोएं.

उन्होंने कहा कि बर्ड फ्लू कई राज्यों में तेजी से फैल रहा है, ऐसे में खतरा इसलिए भी अधिक है कि ये पक्षियों से इंसानों में जा सकता है. सबसे अधिक खतरा उन लोगों को है जो पोल्ट्री का काम करते हैं या अक्सर खेतों में जाते हैं, ऐसे में उन्हें सबसे अधिक सावधानी बरतनी होगी.

गौरतलब है कि कई बार सर्दी, जुकाम और खांसी जैसे लक्षण भी बर्ड फ्लू को बुलावा देते हैं. ऐसे में एक्सपर्ट का मानना है कि लोगों को अधिक से अधिक सफाई पर ध्यान देना चाहिए, क्योंकि कोरोना काल में लोगों को बार-बार हाथ धोने की आदत हो गई है तो ऐसे में कोई बड़ी परेशानी नहीं आएगी.

मध्य प्रदेश की सरकार ने भी अपने इलाकों में लोगों से अलर्ट रहने के लिए कहा है. हालांकि, चिकन या अंडा खाने पर किसी तरह का खतरा नहीं बताया है. सरकार का कहना है कि चिकन, अंडा सही तरीके से पका कर खाएं, कच्चापन ना रहने दें. ऐसे में किसी को खतरा नहीं होगा.

मध्य प्रदेश में अभी तक मुर्गो में ये वायरस नहीं मिला है, ऐसे में चिंता थोड़ी कम है. क्योंकि इस वायरस के इंसानों में आने का सबसे अधिक खतरा मुर्गो के कारण ही रहता है. मध्य प्रदेश में अभी तक कौवों में ही सबसे अधिक बर्ड फ्लू के लक्षण मिले हैं.

अपनी सलाह दे (देश की आवाज)

Please enter your comment!
Please enter your name here