BPSC में पूछा विवादास्पद सवाल- क्या बिहार के राज्यपाल कठपुतली हैं?

23

Patna/Atulya Loktantra : ‘क्या बिहार के राज्यपाल कठपुतली हैं’, यह हम नहीं कर रहे हैं बल्कि बिहार लोक सेवा आयोग (BPSC) की मुख्य परीक्षा में यह सवाल पूछा गया है रविवार को बिहार लोक सेवा आयोग की मुख्य परीक्षा के सामान्य ज्ञान के दूसरे पेपर में यह सवाल किया गया था भारत में राज्य की राजनीति में राज्यपाल की भूमिका का आलोचनात्मक परीक्षण कीजिए विशेष रूप से बिहार के संदर्भ में क्या वह केवल एक कठपुतली हैं? निश्चित रूप से प्रश्न पत्र सेट करने वाले शिक्षक ने शायद यह नहीं सोचा होगा कि ये प्रश्न विवाद का कारण हो सकता है. लेकिन बिहार लोक सेवा आयोग के परीक्षा नियंत्रक अमरेन्द्र कुमार का कहना हैं कि ऐसा सवाल पूर्व में भी किया जाता रहा हैं और आयोग के सदस्यों या अधिकारियों को इस बात की जानकारी नहीं होती कि प्रश्न पत्र में क्या- क्या सवाल पूछे जा रहे हैं. वहीं कई जानकारों का मानना हैं कि ऐसे सवाल पूछे जाने का रिवाज रहा है लेकिन इस बार प्रश्न सेट करने वाले ने कठपुतली शब्द का प्रयोग कर विवाद को जन्म दे दिया. वहीं कई लोगों का कहना हैं कि इसमें ख़ास कर बिहार और कठपुतली शब्द लिखकर एक नया विवाद शुरू हो गया है जो राज्यपाल जैसे संवैधानिक पद के संदर्भ में सही नहीं है. हालांकि इसी परीक्षा में एक और सवाल यह पूछा गया था कि क्या बहुत अधिक दल भारतीय राजनीति के लिए अभिशाप हैं इस प्रश्न को बिहार के परिपेक्ष्य में स्पष्ट कीजिए.

इस तरह के सवाल एक तरह से विवाद को जन्म देने का कारण बन सकते हैं. हालांकि यहां एक और बात ध्यान देना चाहिए कि पिछले कुछ सालों में राज्य सरकार और राजभवनों के बीच विवाद भी सामने आए हैं जिसमें केंद्र सरकार का भी दखल रहा है. वहीं कई लोगों ने राज्यपाल जैसे पदों को खत्म करने की भी वकालत की है. अब देखने वाली बात यह है होगी कि ‘कठपुतली’ जैसे शब्दों के इस्तेमाल पर बिहार सरकार की ओर से क्या सफाई आती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here