31 दिसंबर तक साफ और खुश्क रहेगा मौसम, 1 जनवरी को छाएगा घना कोहरा

0

Chandigarh/Atulya Loktantra: पश्चिमी विक्षोभ के आंशिक प्रभाव के कारण जहां देश के पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी हो रही है। वहीं मैदानी इलाकों में बारिश और कड़ाके की ठंड और घना कोहरा छाया है। कुछ राज्यों में रविवार की रात को बारिश भी हुई और आगे भी ऐसा ही मौसम बने रहने की संभावना है। हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय के कृषि मौसम विज्ञान विभाग के अध्यक्ष के अनुसार 28 दिसंबर से उत्तर पश्चिमी हवाएं चलने से 31 दिसंबर तक मौसम साफ व खुश्क रहेगा। इन हवाओं संग पहाड़ों पर हो रही बर्फबारी का असर मैदानी इलाकों तक पहुंचना शुरू हो जाएगा। इस बीच बादल भी छा सकते हैं। इस कारण 1 जनवरी तक दिन और रात का तापमान इस सीजन के न्यूनतम स्तर को छू सकते हैं।

ठंडी हवाएं चलने से हरियाणा राज्य में रात्रि (न्यूनतम) तापमान में गिरावट व कहीं कहीं पाला जमने की संभावना है। इस दौरान (28 से 31 दिसंबर) वातावरण में नमी की अधिकता के कारण अलसुबह व देर रात्रि के समय धुंध रहने की संभावना है। वहीं, रविवार सुबह भी घना कोहरा छाया रहा। विजिबिलिटी 10 मीटर तक रह गई। दिसबंर की शुरुआत से अब तक मौसम में कई बार बदलाव आ चुके हैं। ये बदलाव पश्चिमी विक्षोभ के कारण आ रहे हैं।

पश्चिमी विक्षोभ के कारण 12 दिसंबर की रात को कड़ाके की ठंड ने दस्तक दे दी थी। 13 दिसंबर को दिन का तापमान 26 डिग्री से गिरकर 14 डिग्री पर आकर स्थिर हो गया था। यह तापमान 5 दिन तक लगातार 14 डिग्री पर स्थिर रहा। इस बीच रात का तापमान भी 4 डिग्री तक पहुंच गया था। 18 दिसंबर को विंड पैटर्न में बदलाव आ गया। उत्तरी-पश्चिमी हवाओं के संग दक्षिणी हवाएं मिल गई। इस कारण दिन के तापमान का बढ़ना शुरू हो गया।

25 दिसंबर तक दिन का तापमान 20 से 22 डिग्री की बीच दर्ज किया गया। दिसंबर में तीसरी बार रविवार की सुबह घने कोहरे ने दस्तक दी। रविवार देर रात तक तो हल्की धुंध छाई रही। रविवार सुबह लोग सोकर जागे तो उनका सामना घने कोहरे से हुआ। नववर्ष का स्वागत भी कड़ाके की ठंड और घने कोहरे के साथ हो सकता है। न्यूनतम तापमान भी जमाव बिंदु तक पहुंच सकता है।

 

अपनी सलाह दे (देश की आवाज)

Please enter your comment!
Please enter your name here