नोएडा और ग्रेटर नोएडा में कोरोना पर लगाम नहीं, CMO को हटाया गया

0

New Delhi/Atulya Loktantra : गौतम बुद्ध नगर में एक महीने में तीसरे मुख्य चिकित्सा अधिकारी की नियुक्ति की गई है. डॉ अनुराग भार्गव और डॉ एपी चतुर्वेदी के बाद दीपक ओहरी तीसरे सीएमओ नियुक्त किए गए हैं. गौतम बुद्ध नगर में कोरोना वायरस के सर्वाधिक 95 पॉजिटव केस मिलने, एक क्वारेंटाइन पेशेन्ट के आत्महत्या करने और संक्रमण पर कोई प्रभावी रोकथाम लगा पाने में नाकाम रहने से असंतुष्ट प्रदेश सरकार ने डॉ एपी चतुर्वेदी को मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) के पद से हटाकर उनके सभी वित्तीय अधिकार ले लिए गए हैं.

डॉ चतुर्वेदी के स्थान पर स्टेट मेडिकल एंड हेल्थ सर्विसेस के ज्वाइंट डायरेक्टर ने डॉक्टर दीपक ओहरी को प्रधानाचार्य आगरा मेडिकल कॉलेज के वर्तमान दायित्वों के साथ-साथ अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी गौतमबुद्ध नगर का पद व दायित्व सौंपे हैं. दीपक ओहरी को तत्काल कार्यभार ग्रहण करने का निर्देश दिया गया है.

गौतमबुद्ध नगर में लगातार कोरोना वायरस के मरीजों की बढ़ती संख्या, जिले में लॉकडाउन और कानून व्यवस्था के साथ-साथ कोविड-19 बीमारी के फैलाव पर जिला प्रशासन द्वारा उठाए जा रहे कदमों पर अपर मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी ने असंतोष जाहिर किया गया था. यह साफ हो गया था कि इसकी गाज किसी अधिकारी के ऊपर गिरना निश्चित है.

अवनीश कुमार अवस्थी ने गौतम बुद्ध नगर की स्थिति असंतोषजनक बताते हुए टिप्पणी की थी कि यहां कोरोना वायरस मरीजों की संख्या सबसे अधिक 67 है. जमातियों की संख्या 82 है. एक कोरोना पेशेंट ने आत्महत्या की. पुलिस और प्रशासन के बीच समन्वय की कमी है. इसके कारण पहले अनुराग भार्गव और फिर डॉ एपी चतुर्वेदी को हटाकर डॉक्टर दीपक ओहरी को अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी का पद और दायित्व सौंपा गया है.

अपनी सलाह दे (देश की आवाज)

Please enter your comment!
Please enter your name here