राजधानी दिल्ली में फिर बढ़ा प्रदूषण स्तर, बवाना में 447 एक्यूआई रिकॉर्ड

0
File Photo

New Delhi/Atulya Loktantra: पराली के धुएं और हवा की गति कम होने से राजधानी दिल्ली में आज प्रदूषण स्तर गंभीर श्रेणी में पहुंच गया है। वायुमंडल में प्रदूषकों के बढ़ने के साथ राष्ट्रीय राजधानी में वायु की गुणवत्ता बिगड़ती जा रही है। जो दिल्ली-एनसीआर के लोगो के लिए हानिकारक है। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के आंकड़ों के अनुसार आनंद विहार, बवाना, पटपड़गंज और वज़ीरपुर में प्रदूषण का स्तर गंभीर श्रेणी में पहुंच गया है।

आनंद विहार में वायु गुणवत्ता सूचकांक 408, बवाना में 447, पटपड़गंज में 404 और वज़ीरपुर में 411 रिकॉर्ड हुआ। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अनुसार सभी चार जगह गंभीर श्रेणी में हैं। इससे पहले बृहस्पतिवार को प्रदूषण स्तर खतरनाक श्रेणी में पहुंच गया था। शाम चार बजे तक औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 402 दर्ज किया गया।

AdERP School Management Software

दिनभर छाए रहे स्मॉग के कारण लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। केंद्र के वायु चेतावनी व्यवस्था के अनुसार, बुधवार को पंजाब, हरियाणा व उत्तर प्रदेश समेत पड़ोसी राज्यों में पराली जलाने की करीब तीन हजार घटनाओं का सीधा असर दिल्ली-एनसीआर समेत उत्तर पश्चिम भारत की हवा पर पड़ा।
आगे पढ़ें

अपनी सलाह दे (देश की आवाज)

Please enter your comment!
Please enter your name here