हरियाणा में 22 सितंबर से री अपीयर, ओपन और जेबीटी की परीक्षाएं संभव, शिक्षा बोर्ड ने सरकार से मांगी इजाजत

0

Chandigarh/Atulya Loktantra: कोरोना महामारी के कारण परीक्षाएं भी पूरी नहीं पाई थीं। लेकिन अब हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड ने री-अपीयर, ओपन और जेबीटी परीक्षा की तैयारी कर ली है। 22 सितंबर से प्रदेश में परीक्षाएं कराने के लिए बोर्ड ने सरकार से इजाजत मांगी है। हालांकि सरकार की ओर से अभी जवाब नहीं मिला है। इसके बाद ही तैयारी होगी।

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड ने राज्य सरकार को पत्र लिख इजाजत मांगी प्रदेश में 24 मार्च से लॉकडाउन के कारण परीक्षाओं को रोक दिया था। बोर्ड ने फिर दसवीं और 12वीं का परीक्षा परिणाम घोषित कर दिया। इसमेें कई की कंपार्टमेंट आई। दोबारा परीक्षा देने के लिए लेट फीस के साथ फार्म भरे जा रहे हैं। साथ ही ओपन की परीक्षाएं भी बोर्ड की तरफ से कराई जानी है। साथ ही बोर्ड ने जेबीटी की अंतिम वर्ष की परीक्षाएं कराने का निर्णय लिया है। यह परीक्षाएं जुलाई-अगस्त मेें होती हैं।

डेढ़ लाख देंगे परीक्षा, फार्म भरने की अंतिम तिथि आज
बोर्ड की तरफ से सेकेंडरी और सीनियर सेकेंडरी की परीक्षा में परीक्षा देने के लिए लेट फीस के साथ फार्म भराए जा रहे हैं। एक आंकड़ों पर नजर डाले तो री-अपीयर, ओपन और जेबीटी के मिलाकर करीब डेढ़ लाख परीक्षा देंगे। इसमें करीब 17 हजार परीक्षार्थी जेबीटी के हैं। बोर्ड की तरफ से इन तीन सितंबर तक सेकंडरी और सीनियर सेकंडरी के लिए फार्म भरने की अंतिम तिथि हैं।

हरियाणा सरकार के जवाब का इंतजार
हरियाणा सरकार से परीक्षा लेने का जवाब मिलने के बाद बोर्ड की तरफ से तैयारी शुरू कर दी जाएगी। कोरोना के लिए सरकार की तरफ से गाइडलाइन का इंतजार है। स्कूल में बिना मास्क के परीक्षा में एंट्री नहीं करने के साथ कक्षाओं को सैनिटाइज करने और सैनिटाइजर के प्रयोग के बाद ही परीक्षा में जाने देने जैसे नियम तय किया जाएंगे।

अपनी सलाह दे (देश की आवाज)

Please enter your comment!
Please enter your name here