यौन उत्पीड़न मामला : NSUI औऱ डीएएसएफआई का उपायुक्त कार्यालय पर संयुक्त प्रदर्शन

0

Faridabad/Atulya Loktantra : आज एनएसयूआई के प्रदेश सचिव कृष्ण अत्री और डीएएसएफआई के प्रदेश महासचिव ललित कुमार के संयुक्त नेतृत्व में राजकीय महिला महाविद्यालय यौन उत्पीड़न मामले में आरोपियों की गिरफ्तारी और मामले की सीबीआई जाँच को लेकर हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर के नाम सेक्टर 12 जिला उपायुक्त कार्यालय पर डीसी अशोक कुमार को ज्ञापन सौंपा।

इस दौरान प्रदेश सचिव कृष्ण अत्री और डीएएसएफआई के प्रदेश महासचिव ललित कुमार ने संयुक्त रूप से कहा कि इस तरह के मामलों में सरकार को बिल्कुल भी लापरवाही नही बरतनी चाहिए तथा जो भी दोषी है उनके तुरंत सलाखों के पीछे भेज देना चाहिए लेकिन पता नही क्यों प्रदेश की खट्टर सरकार इस मामले में नरमी बरत रही है। उन्होंने कहा कि इस मामले को उजागर हुए 4-5 दिन हो चुके है लेकिन अभी तक कोई भी संतोषजनक कदम नही उठाया गया है। इसी से परेशान होकर छात्र संगठनों ने संयुक्त रूप से जिला उपायुक्त के सामने अपना मांग पत्र रखा है तथा चेतावनी भी दी है कि जल्द से जल्द कार्यवाही नही की गई तो छात्र सड़को पर उतर आएंगे और इसका जिम्मेदार स्वयं प्रशासन और खट्टर सरकार होगी। ज्ञापन में मुख्य रूप से निम्लिखित माँगे रखी गई है:-
1) राजकीय महिला महाविद्यालय यौन उत्पीड़न मामले की सीबीआई जाँच हो।
2) तीनों आरोपियों को तुरंत गिरफ्तार किया जाए।
3) हरियाणा के सभी कॉलेजों में महिला सेल का गठन किया जाए।
4) हरियाणा के सभी कॉलेजों में कॉलेज के समय मे कम से कम 2 महिला पुलिसकर्मी की तैनाती की जाए।
5) सभी महिला कॉलेजो में पूर्णतयः महिला स्टॉफ की नियुक्ति की जाए।

इस दौरान छात्रा अन्नू कुमारी और शालू कर्दम ने कहा कि लड़कियों के घर वाले ना जाने कितनी विषम परिस्थितियों में सरकारी कॉलेज में पढ़ने के लिए भेजते है लेकिन इस तरह के मामले अगर सामने आते रहे तो गरीब परिवार अपनी बेटियों को पढ़ाना बंद कर देंगे। इसलिए खट्टर सरकार को तुरंत कार्यवाही करके आरोपियों को सजा देनी चाहिए।

‘इस दौरान ज्योति, सीमा, कोमल, भावना, मोंटी, साक्षी, प्रीति, दिव्या, कल्पना, स्वेता, साधना, बॉबी, मनोज, आरिफ खान, सोनू सैनी, दुर्गेश दुग्गल आदि मौजूद थे।

अपनी सलाह दे (देश की आवाज)

Please enter your comment!
Please enter your name here