संस्कार फाउंडेशन की टीम ने उठाया शहर को खुले में शौच मुक्त बनाने का जिम्मा

0

Faridabad/Atulya Loktantra : शहर में कहीं भी सड़क किनारे लघु शंका करने वालों को शर्मसार करने और फिर जागरूक करने का जिम्मा महिलाओं की एक टोली ने उठाया हुआ है संस्कार फाउंडेशन के बैनर तले कुछ महिलाएं समय मिलते ही इकट्ठा होती है और निकल पड़ती है। शहर की सड़कों पर और कहीं भी खुले में लघु शंका करते दिखाई देने पर उसके पास जाकर डफली, चिमटा, मजीरा बजाती है। मकसद उसे शर्मसार करने और जागरूक करने का है ताकि वह आगे से खुले में लघु शंका ना करें संस्कार फाउंडेशन की संयोजक परमिता चौधरी ने बताया कि वह लगातार अपनी महिला टीम का विस्तार करने में लगी हुई है,ताकि फरीदाबाद के साथ साथ पूरे एनसीआर में इस तरह की मुहिम चलाई जा सके परमिता चौधरी ने बताया कि लोगों को सोचना चाहिए कि जब शहर में जगह-जगह शौचालय बने हुए हैं तो फिर खुले में ही लघु शंका क्यों उनकी वजह से किसी की मां बहन और बेटी को शर्मसार होना पड़ता है।

इन्हें रोकने के लिए ही उन्हें सड़क पर उतरना पड़ रहा है और खुले में लघु शंका करने वालों के साथ हमारी टीम फोटो और सेल्फी लेती है, और हमारी यह मुहिम जब तक चलेगी जब तक हमारा शहर शौच मुक्त ना हो जाएं। संस्कार फाउंडेशन के नेतृत्व में स्वच्छता अभियान के तहत शहर में खुले में शौच( पेशाब) को लेकर अपने तमाम वालंटियर के साथ ढपली, मजीरा के ‘साथ खुले में पेशाब करते हुए लोगों को रोका और शपथ दिलाई कि न हम बाहर खुले में शौच (पेशाब) करेंगे और न दूसरों को करने देंगे! उसके बाद नगर निगम मुख्यालय में जाकर फरीदाबाद के गंदे पडे शौचालय की शिकायत की.

AdERP School Management Software

इस मौके पर संस्कार फाउंडेशन की महासचिव रहमानी खान और राज शर्मा ने बताया कि हमने आज सेक्टर 16 फरीदाबाद उधोग मंत्री जी के दफ्तर के पीछे ये अभियान चलाया व शोच करते पाए लोगो को समझाया व जागरूक किया और हमने लोगों से अपील की है कि यह फरीदाबाद शहर अपका अपना शहर है और इसको स्वच्छ बनाए रखने की जिम्मेदारी भी हमारी है. इस मौके पर परमिता चौधरी संयोजक संस्कार फाउंडेशन , रेनू चौधरी ,राजबाला, अनीता शर्मा,सचिन चौधरी ,रहमानी खान, शबनम, राज शर्मा, मीनू साहनी ,सपना, दिव्या डागर जग विजय वर्मा, जसवंत पवार, सुमित ,शिवम पांडे ,ऋतु, पूनम ,फूलवती ,दीपशिखा, कीर्ति शर्मा आदि मौजूद रहे।

अपनी सलाह दे (देश की आवाज)

Please enter your comment!
Please enter your name here