मानव रचना में एकत्रित हुए सरकारी स्कूल के प्रिंसिपल और हेड मास्टर

0

Faridabad/Atulya Loktantra : मानव रचना शैक्षणिक संस्थानऔर सर्वोदय हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर के सहयोग से फरीदाबाद शिक्षा परिषद (FEC) की ओर से प्रधानाध्यापकों, मुख्याध्यापकों और प्राथमिक विद्यालय प्रमुखों के लिए दो दिवसीय (24 और 25 मई) क्षमता निर्माण कार्यशाला का आयोजन किया जा रहा है। पहले दिन कार्यशाला में 82 प्राचार्य और मुख्याध्यापक शामिल हुए। एससीईआरटी और अन्य प्रतिष्ठित संगठनों के व्यक्तियों और विशेषज्ञों ने प्रशासन, सुशासन, नेतृत्व शैली, शैक्षणिक उत्कृष्टता, आईसीटी का उपयोग, वित्त प्रबंधन, ऑडिटिंग, रिपोर्ट बनाने सहित प्रमुख मुद्दों पर विचार-विमर्श किया।

कार्यशाला के दौरान, परमोद कुमार ने प्रतिभागियों के साथ स्कूल प्रबंधन समिति की भूमिका पर बात की। डॉ. एनसी वाधवा ने फरीदाबाद शिक्षा परिषद के दृष्टिकोण और उद्देश्यों को साझा किया और लगातार प्रयासों के माध्यम से एक बड़े सामाजिक बदलाव की आवश्यकता को सामने रखा। उन्होंने यह भी साझा किया कि एफईसी क्षेत्र के 315 सरकारी स्कूलों को हैंड-होल्ड करने के लिए पांच साल के विजन डॉक्यूमेंट पर काम कर रहा है।

गौरतलब है कि 16 मार्च, 2019 को आईएएस पीके दास (एसीएस शिक्षा) की अध्यक्षता में हुई बैठक में फरीदाबाद शिक्षा परिषद को सरकारी स्कूल के शिक्षकों की क्षमता निर्माण के लिए सहायता प्रदान करने के लिए अनिवार्य किया गया था। यह क्षमता निर्माण कार्यशाला फरीदाबाद में स्कूली शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार की दिशा में एक कदम है।

कार्यक्रम में परमोद कुमार, परियोजना कार्यालय, स्कूल शिक्षा विभाग, हरियाणा; डॉ. एनसी वाधवा, महानिदेशक, एमआरईआई; अंशु सिंगला, वरिष्ठ विशेषज्ञ शिक्षक, एससीईआरटी; डॉ. अश्विनी वशिष्ठ, विषय विशेषज्ञ; डॉ. मनोज कौशिक, विषय विशेषज्ञ; अजमेर सिंह, विषय विशेषज्ञ; संयोगिता शर्मा, निदेशक-मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल; डीसी चौधरी, सलाहकार, फरीदाबाद नवचेतना ट्रस्ट और सदस्य समेत कई लोग मौजूद रहे।

अपनी सलाह दे (देश की आवाज)

Please enter your comment!
Please enter your name here