राफेल सौदे में CBI जांच की मांग

0
Demand for CBI investigation into Raphael deal
Demand for CBI investigation into Raphael deal

Atulyaloktantra News
NewDelhi : वकील प्रशांत भूषण और पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण शौरी ने वृहस्पतिवार को सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा से मुलाकात की और राफेल लड़ाकू विमान सौदा तथा ऑफसेट निविदा में कथित भ्रष्टाचार की जांच की मांग की। भ्रष्टाचार निरोधक कानून के तहत ‘‘विस्तृत’’ शिकायत के साथ भूषण और शौरी ने जांच की जरूरत के पक्ष में दस्तावेज सौंपे।

उन्होंने एजेंसी के निदेशक से कहा कि कानून के मुताबिक जांच की शुरूआत करने के लिए सरकार से अनुमति हासिल करें। CBI मुख्यालय से बाहर निकलते हुए प्रशांत भूषण ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘सीबीआई निदेशक ने कहा कि वह इस पर गौर करेंगे। हम उपयुक्त कार्रवाई करेंगे।’’ राफेल विमानों के निर्माता दसाल्ट ने सौदे के ऑफसेट दायित्व को पूरा करने के तहत रिलायंस डिफेंस को अपना साझेदार चुना था। सरकार कहती रही है कि दसाल्ट द्वारा ऑफसेट साझेदारी चुनने में उसकी कोई भूमिका नहीं है।

AdERP School Management Software

भारत ने पिछले वर्ष सितम्बर में 36 राफेल लड़ाकू विमानों की 58 हजार करोड़ रुपये में खरीदारी के लिए फ्रांस के साथ अंतर सरकारी समझौता किया था।

अपनी सलाह दे (देश की आवाज)

Please enter your comment!
Please enter your name here