पोषक आहार के प्रति बच्चों को किया जागरूक

0

Faridabad/Atulya Loktantra : राजकीय आदर्श वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सराय ख्वाजा की जूनियर रेडक्रास और सैंट जॉन एम्बुलेंस ब्रिगेड ने राष्ट्रीय पोषक माह में पोषक आहार के विषय में बच्चों को जागरूक किया गया। विद्यालय प्रभारी व जेआरसी तथा एसजेएबी अधिकारी रविन्द्र कुमार मनचन्दा ने कहा कि हमारा शरीर अपनी ऊर्जा के लिए भोजन पर निर्भर रहता है। हमें अपनी जरूरी शारीरिक गतिविधियों के लिए तमाम पोषक तत्‍वों की आवश्‍यकता होती है। ऐसा भोजन जो इन सभी जरूरतों को पूरा कर सके वह पोषक व संतुलित आहार कहलता है।

पोषक एवम् संतुलित आहार का हमारे जीवन में विशेष महत्‍व है हमारे शरीर को पूरी तरह स्‍वस्‍थ रहने के लिए सभी पोषक पदार्थों की जरूरत होती है। ये पोषक पदार्थ अलग-अलग तरह के भोजन से हमें मिलते हैं जैसे ताजे फल, सब्जियां, साबुत अनाज, फलियां, सूखे मेवे, डेयरी उत्‍पाद आदि। इनमें सभी की अपनी महत्ता है, इसलिए एक पोषक आहार में ये सब चीजें होनी चाहिए। विद्यालय के अंग्रेजी प्रवक्ता रविन्द्र कुमार मनचन्दा ने कहा कि पोषण अभियान कार्यक्रम न होकर एक जन आंदोलन और भागीदारी है। इस कार्यक्रम की सफलता में जहां जन-जन का पोषण अभियान में सहयोग आवश्यक है वहीं सामाजिक संस्थाओं व प्रतिनिधियों, स्कूल प्रबंधन समितियों, सरकारी विभागों, सामाजिक संगठनों, तमाम सार्वजनिक एवं निजी क्षेत्र की समावेशी भागीदारी भी अपेक्षित है।

इस भागीदारी को निभाने का एक खूबसूरत अवसर राष्ट्रीय पोषण माह के रूप में सबको प्राप्त हुआ है। सितंबर माह को राष्ट्रीय पोषण माह के रूप में मनाया जाता है, इस माह में हर व्यक्ति, संस्थान और प्रतिनिधि से यह आशा की जा रही है कि वे अपनी ज़िम्मेदारी भारत को कुपोषण मुक्त बनाने में निभायेंगे। पोषण अभियान देश में नाटेपन, अल्पपोषण, खून की कमी अर्थात अनीमिया तथा जन्म के वक्त कम वज़न वाले शिशुओं की संख्या में कमी लाने के लिये विभिन्न मंत्रालय और विभाग विगत वर्षों से सक्रिय हैं। इस दिशा में अपेक्षित परिणाम हासिल होना अभी शेष है। पोषण अभियान टेक्नोलोजी की मदद से जन-जन के बेहतर आहार और व्यवहार में सकारात्मक बदलाव लायेगा। इस योजना में विभिन्न मंत्रालय एवं विभाग तालमेल बैठाते हुए अपना भरपूर सहयोग प्रदान करेंगे।

इस अभियान को सफल बनाने के लिये पंचायत स्तर तक एक मजबूत साझेदारी की आवश्यकता है। इस दिशा में हम सब अपनी अहम भूमिका निभायें तथा कुपोषण को दूर करते हुए एक मज़बूत देश की नींव रखें। बच्चों ने पेंटिंग बना कर भोजन में प्रोटीन, खनिज, विटामिन, वसा आदि सभी तत्वों का संतुलित मात्रा में समावेश करने के लिए आग्रह किया ताकि “स्वस्थ रहे भारत, रोगमुक्त रहे भारत”। विद्यालय प्रभारी रविन्द्र कुमार मनचन्दा, रसायन शास्त्र प्रवक्ता रेणु शर्मा, गणित प्रवक्ता विनोद अग्रवाल, अंग्रेजी प्रवक्ता विनोद बैंसला, भूगोल प्रवक्ता प्रदीप राठी,अंग्रेजी प्रवक्ता रिचा और फाइन आर्ट्स प्रवक्ता प्रीति सहित समस्त प्रवक्ता वर्ग ने बच्चों को मौसमी सब्जियां, हरी सब्जियां और फल व मोटे अनाज को नियमित रूप से भोजन का हिस्सा बनाने का सुझाव दिया ताकि अच्छा स्वास्थ्य बना कर हम प्रतिरोधक क्षमता बढ़ा कर रोगों से मजबूती से लड़ सकें।

अपनी सलाह दे (देश की आवाज)

Please enter your comment!
Please enter your name here