श्रीलंका में आज रात से आपातकाल लागू, कोलंबो बस अड्डे पर 87 बम मिले

0

नई दिल्ली/अतुल्यलोकतंत्र : राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना ने श्रीलंका में आधी रात से देश में आपातकाल लागू करने का एलान कर दिया है। इस बीच श्रीलंकाई सरकार ने पहली बार इन हमलों में जिम्मेदार संगठन का नाम सबके सामने रखाा है। सरकार के प्रवक्ता राजीथा सेनारत्ने ने सीरियल ब्लास्ट के लिए स्थानीय इस्लामी चरमपंथी संगठन नेशनल तौहीद जमात को जिम्मेदार ठहराया है। इसी बीच खबर आ रही है कि कोलंबो बस स्टैण्ड के पास 87 बम डेटोनेटर मिल हैं।

आपको बताते जाए कि श्रीलंका में रविवार को ईस्टर के मौके पर हुए सिलसिलेवार बम विस्फोटों में मारे गए 290 लोगों में पांच भारतीय भी शामिल हैं। रुवान गुनसेकरा ने सोमवार को पुष्टि करते हुए कहा कि इन हमलों के संबंध में 24 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। सोमवार सुबह, कोलंबो में भारतीय उच्चयोग ने दो और भारतीयों के मारे जाने की पुष्टि की। सोमवार कोलंबो एयरपोर्ट के पास एक एक और बम मिला है। पुलिस प्रवक्ता रुवान गुनसेकरा ने सोमवार को पुष्टि करते हुए कहा कि इन हमलों के संबंध में 24 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

AdERP School Management Software

गुनसेकरा ने यहां मीडिया को दिए गए आंकड़ों में मृतकों की संख्या और इस संबंध में गिरफ्तार किए गए लोगों की संख्या की पुष्टि की। उन्होंने साथ ही कहा कि विस्फोटों में 500 अन्य लोग घायल हुए हैं। गार्डियन की रिपोर्ट के मुताबिक, रविवार को मृतकों का आंकड़ा 207 था, लेकिन कुछ और शव मिलने और कई अन्य घायलों के दम तोड़ने के कारण संख्या बढ़कर 290 हो गई है।

गुनसेकरा ने कहा कि पुलिस ने एक वैन जब्त की है और उसके ड्राइवर को भी गिरफ्तार किया है जिस पर संदिग्धों को कोलंबो पहुंचाने का संदेह है। पुलिस ने हमलावरों द्वारा इस्तेमाल किए गए एक घर पर भी छापा मारा है। अभी तक किसी समूह ने हमलों की जिम्मेदारी नहीं ली है।

कोलंबो हवाई अड्डे के पास एक इम्प्रोवाइज्ड बम को निष्क्रिय किया गया। कोलंबो हवाई अड्डे पर अस्त-व्यस्त सा माहौल था क्योंकि श्रीलंका पहुंचे यात्रियों को वहां खुले एकमात्र टैक्सी काउंटर पर लंबी कतार में लगना पड़ा। वे अपडेट के लिए टीवी स्क्रीन पर नजरें गड़ाए थे। सरकार द्वारा राष्ट्रव्यापी कर्फ्यू लगाने के बाद सड़कें सुनसान हैं और गलत जानकारी फैलने से रोकने के लिए सोशल मीडिया के इस्तेमाल पर रोक लगा दी लगा दी गई है।

आपको बताते जाए कि श्रीलंका पुलिस के मुख्य अधिकारी ने 10 दिन पहले अलर्ट किया था कि देशभर के मुख्य चर्चों में ऐसे हमले हो सकते हैं। वहां के सीनियर अधिकारियों को यह चेतावनी पुलिस चीफ पूजुथ जयसुंद्रा ने 11 अप्रेल को दी थी। अपनी तरफ से भेजे गए अलर्ट में जयसुंद्रा ने लिखा थाकि विदेशी खुफिया विभाग ने जानकारी दी है कि एनटीजी (नैशनल तोहिथ जमात) नाम का संगठन सुइसाइड हमलों की तैयारी कर रहा है।

होटल के सीसीटीवी कैमराें की जांच के आधार पर मैनेजर ने बताया कि वह आतंकी खचाखच भरे रेस्तरां में ईस्टर की सुबह नाश्ते के लिए लाइन में सबसे आगे आकर खड़ा हो गया और फिर बम ब्लास्ट कर दिया। होटल मैनेजर ने बताया, ‘उसने हाथ में प्लेट पकड़ रखी थी और जब उसे खाना परोसा जाने वाला था, तभी उसने इस आतंकी हमले को अंजाम दिया।

अपनी सलाह दे (देश की आवाज)

Please enter your comment!
Please enter your name here