राफेल डील : सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद कांग्रेस और बीजेपी में आरोप-प्रत्यारोप जारी

0

New Delhi/Atulyaloktantra News : पिछले कुछ समय से एक बड़ा राजनीतिक मुद्दा बनी राफेल डील को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने अहम फैसला दिया है. कोर्ट ने इस मामले में जांच की मांग वाली सारी याचिकाएं खारिज कर दी हैं. राफेल डील पर उठाए जा रहे सवालों पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि इस पर कोई संदेह नहीं है. सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए कहा कि राफेल डील की खरीद प्रक्रिया में कोई कमी नहीं है. साथ ही कोर्ट ने कहा कि कीमत देखना कोर्ट का काम नहीं है. कोर्ट के इस फैसले के साथ ही कांग्रेस और बीजेपी के बीच भी आरोप-प्रत्यारोप की जंग छिड़ गई है. पढ़ें किसने क्या कहा…

– बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि एक कोरे झूठ के आधार पर देश की जनता को गुमराह करने का इतना बड़ा प्रयास कभी नहीं हुआ. सुप्रीम कोर्ट का फैसला कांग्रेस के मुंह पर तमाचा है. सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत है. कोर्ट के फैसले ने झूठ की राजनिति का पर्दाफाश किया है.

राफेल डील में अदालत के जांच की मांग याचिका खारिज कर देने के फैसले पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा- मामला शुरुआत से साफ था और हम कह रहे थे कि कांग्रेस द्वारा लगाए गए आरोप निराधार थे और सिर्फ राजनीतिक लाभ हासिल करने के लिए थे. टीएमसी के सुगतो राय ने कहा- सुप्रीम कोर्ट ने जो कहा वह उसके नजरिए से सही था लेकिन राजनीतिक दलों ने जेपीसी जांच की मांग की है. कांग्रेस ने कहा है कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद भी वो इस मामले में जेपीसी जांच की मांग जारी रखेंगे.

– कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने कहा है कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर पीएम मोदी और बीजेपी को खुश होने की कोई वजह नहीं है. ये फैसला अपनेआप में विरोधाभासी है. माननीय न्यायालय ने कहा है कि हम इस डील की डिटेल में नहीं जा सकते.कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा है कि सुप्रीम कोर्ट का ये फैसला कांग्रेस के महीनों पहले कही बात को सही साबित करता है. हमने पहले ही कहा था कि इस संवेदनशील मसले को सुप्रीम कोर्ट में नहीं सुलझाया जा सकता है. राफेल डील में घोटाले के मामले को जेपीसी जांच के जरिए ही सुलझाया जा सकता है.

अपनी सलाह दे (देश की आवाज)

Please enter your comment!
Please enter your name here