आज से खुला रेलवे की कंपनी का IPO, क्या आपको इश्यू में लगाना चाहिए पैसा? यहां समझिए

0
File Photo

New Delhi/Atulya Loktantra : लंबे समय तक इंतजार के बाद सरकारी कंपनी IRFC का IPO बाजार में आज सब्सक्रिप्शन के लिए खुल चुका है. IRFC का ये IPO देश में किसी भी NBFC का पहला IPO है. रेलवे से जुड़ी इस कंपनी के IPO को IRCTC की तरह देखा जा रहा है. इस IPO में निवेश करें या इससे दूर रहें, इसका फैसला करने से पहले आपको इस इश्यू के बारे में सबकुछ जान लेना चाहिए.

आज से खुला IRFC का IPO
इंडियन रेलवे फाइनेंस कॉर्पोरेशन (IRFC) का IPO आज से खुल गया है, इसका प्राइस प्राइस बैंड (price band) 25-26 रुपये प्रति शेयर तय किया गया है. आज से तीन दिन तक निवेशकों के पास इस IPO में पैसा लगाने के लिए मौका होगा. एंकर निवेशकों के लिए यह IPO 3 दिन पहले 15 जनवरी को ही खुल गया था, ये इश्यू 20 जनवरी को बंद होगा. सरकार की योजना इस IPO के जरिए 4,633.4 करोड़ रुपये जुटाने की है.

कम से कम 575 शेयरों के लिए आवेदन
IRFC का यह IPO देश में किसी भी नॉन-बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी (NBFC) का पहला IPO है. IRFC पब्लिक सेक्टर की पहली NBFC है जो पब्लिक होने जा रही है. इस IPO में निवेशकों को कम से कम 575 शेयर के लिए आवेदन करना होगा, यानी इसका लॉट साइज 575 शेयरों का है. कोई भी निवेशक ज्यादा से ज्यादा 13 लॉट के लिए अप्लाई कर सकता है.

178 करोड़ शेयर जारी किए जाएंगे
Indian Railway Finance Corporation (IRFC) के IPO में 1,78,20,69,000 (178 करोड़) इक्विटी शेयर जारी किए जाएंगे, इसमें फ्रेश शेयर 1,18,80,46,000 (118 करोड़) हैं, जबकि ऑफर फॉर सेल 59,40,23,000 (59.4 करोड़) इक्विटी शेयरों का है. इस IPO के लिए IRFC कुल 178 करोड़ शेयर जारी करेगी. कंपनी अपने पूरे पेड-अप इक्विटी कैपिटल का 13.64% शेयर इस IPO के लिए जारी करेगी.

IRFC IPO में पैसा लगाएं या दूर रहें?
हमारे सहयोगी चैनल ज़ी बिज़नेस के मैनेजिंग एडिटर अनिल सिंघवी के मुताबिक ‘ये सरकारी कंपनी है और रेलवे से जुड़ी है, साथ ही AAA रेटेड है. इसलिए कंपनी की बैलेंसशीट और फाइनेंशियल को लेकर चिंता की बात नहीं है. अगले कई सालों तक मजबूत रेवेन्यू और प्रॉफिट की उम्मीद है. इसको इंडियन रेलवे की फाइनेंसर के तौर पर देखें, जब भी इंडियन रेलवे को पैसा चाहिए तो यहीं कंपनी सबसे ज्यादा पैसे देती है. कंपनी की वैल्यूएशंस बहुत अच्छी हैं और एंकर बुक भी मजबूत हैं.’

अनिल सिंघवी के मुताबिक ‘इस कंपनी में कुछ नेगेटिव बाते हैं भी हैं ‘इसका इक्विटी साइज बहुत बड़ा है, 34,000 करोड़ रुपये का मार्केट कैप है इसलिए आसानी से मूव नहीं होगा. इस IPO के बाद सरकार की हिस्सेदारी 86.6 परसेंट रह जाएगी, यानी 11.4 परसेंट और घटाना होगा. जबतक सरकार इसे 75 परसेंट तक नहीं लाएगी, तबतक ये स्टॉक नहीं चलेगा. इसलिए मेरी सलाह है कि आप इस IPO में लॉन्ग टर्म के लिए पैसा लगाइए, लेकिन मैं बहुत बड़ी लिस्टिंग की उम्मीद नहीं कर रहा हूं. जो लोग FD में निवेश करते हैं वो यहां पर पैसा डाल सकते हैं. 12-15 परसेंट रिटर्न सालाना आपको चाहिए तो ये स्टॉक ठीक है, यानी FD से दोगुना रिटर्न आपको ये शेयर देगा. इसमें आपको स्टेबल कमाई होती रहेगी. न बहुत ज्यादा बढ़ेगी न बहुत ज्यादा घटेगी.’

RailTEL का IPO भी जल्द
इश्यू में 50 लाख शेयर IRFC के कर्मचारियों के लिए रिजर्व रखे गए हैं. कंपनी IPO से जुटाये फंड का इस्तेमाल बिजनेस के ग्रोथ के लिए भविष्य में पूंजी की जरूरतों (Capital requirements) और अपने कॉर्पोरेट खर्चों को पूरा करने में करेगी. आपको बता दें कि रेलवे विभाग की इंडियन रेलवे कैटरिंग टूरिज्म कॉर्पोरेशन (IRCTC) पहले ही IPO ला चुकी है. जबकि, RailTEL का आईपीओ जल्द ही आने वाला है.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें