कोरोना : सर्दी, प्रदूषण और त्योहारों की भीड़ है किलर कॉम्बिनेशन, बढ़ सकती है मुसीबत

0
File Photo

New Delhi/Atulya Loktantra News : दिल्ली पर डबल मुसीबत है. कोरोना की तीसरी लहर ने दस्तक दे दी है और पिछले कुछ दिनों से नए मामलों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है. उधर, बढ़ती ठंड के साथ प्रदूषण का स्तर भी बढ़ रहा है और दिल्ली की हवा खराब हो रही है. इस बीच राजधानी के बाजारों में त्योहारी सीजन के कारण हो रही भीड़-भाड़ ने परेशानी को तीन गुणा बढ़ा दिया है.

कोविड-19 का इलाज कर रहे डॉक्टरों ने सर्द मौसम, बढ़ते प्रदूषण लेवल और त्योहारों की भीड़भाड़ को कोरोना के लिए किलर कॉम्बिनेशन करार दिया है. वो मानते हैं कि आने वाले समय में इस महामारी को फैलने से रोकना एक बड़ी चुनौती होगी और यह तब जब इससे बचाव का एक मात्र उपाय ज्यादा से ज्यादा सावधानी बरतना है.

स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा गुरुवार सुबह जारी कोरोना के आंकड़े
24 घंटे में मिले नए कोरोना मामलों की संख्या- 50,209
कोरोना के कुल मामले- 83,64,086
24 घंटे में इस महामारी से हुई मौतें- 704
कुल मौतें- 1,24,315
एक्टिव केस- 5,27,962
ठीक हो चुके मरीजों की संख्या- 77,11,809

दिल्ली में कोरोना ने फिर से नया रिकॉर्ड बनाया है. 24 घंटे में दिल्ली में कोरोना के 6 हजार 842 नए मामले दर्ज किए गए जो एक दिन में अबतक का सबसे बड़ा रिकॉर्ड है. इतने ही वक्त में राजधानी में 51 लोगों की कोरोना से मौत हो गई. लगातार दूसरे दिन छह हजार से ज्यादा केस सामने आए हैं. दिल्ली में कोरोना मरीजों का कुल आंकड़ा 4 लाख 9 हजार को पार कर गया है और यहां बीमारी से मरने वाले लोगों की तादाद 6 हजार 703 तक जा पहुंची है.

राजधानी में लगातार बढ़ रहे कोरोना मामलों पर दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन ने कहा, ‘हां, आप कह सकते हैं. परंतु साथ साथ मेरा यह भी कहना है कि पिछले 15 दिनों में अपनी स्ट्रैटेजी को हमने फोकस किया है. एग्रेसिव कांटैक्ट ट्रेसिंग हम कर रहे हैं. कोई भी एक व्यक्ति पॉजिटिव आता है तो उसके जितने भी कांटैक्ट हैं उन सब के हम टेस्ट कर रहे हैं उसकी वजह से भी नंबर बढ़ रहे हैं.’

एक तरफ कोरोना का कहर है तो दूसरी ओर प्रदूषण परेशान कर रहा है. राजधानी को इन दो मुसीबतों ने मुश्किल में डाल रखा है. कोरोना मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है तो दूसरी ओर दिल्ली के आसमान में प्रदूषण के बादल छाने लगे हैं और हवा खराब हो रही है. पिछले कुछ दिनों से देश में कोरोना के मरीजों की बढ़ोतरी की रफ्तार कम हुई है लेकिन दिल्ली में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. सरकार मान रही है कि दिल्ली में कोरोना की तीसरी लहर की शुरुआत हो चुकी है. लेकिन मामलों के बढ़ने के पीछे कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग की दलील भी दी जा रही है.

पिछले 5 दिनों में दिल्ली में कोरोना के आंकड़े
1 नवंबर को कोरोना के 5062 नए मरीज मिले.
2 नवंबर को नए मरीजों की तादाद 5664 पहुंच गई.
3 नवंबर को कोरोना के नए मरीजों की संख्या में थोड़ी कमी आई और 4001 नए मामले सामने आए.
4 नवंबर को नए मरीजों की संख्या 6725 पर पहुंच गई
5 नवंबर को अभी तक के सारे रिकॉर्ड टूट गए और 6842 नए मरीज मिले.

इस बीच दिल्ली के आसमान में धुएं के काले बादल नजर आ रहे हैं. साथ ही हवा का क्वालिटी इंडेक्स लगातार गिर रहा है. बढ़ती ठंड के साथ बढ़ता प्रदूषण स्तर दिल्लीवालों को परेशान कर रहा है. मौसम विभाग के एडिशनल डायरेक्टर, आनंद शर्मा ने कहा, प्रदूषण को लेकर केजरीवाल सरकार ने काफी पहले से अभियान चलाया हुआ है. लोगों में जागरुकता फैलाने की कोशिश की जा रही है. लेकिन उन वजहों का क्या किया जाए जो दूसरे राज्यों से आकर दिल्ली को बेहाल कर रहे हैं.

अपनी सलाह दे (देश की आवाज)

Please enter your comment!
Please enter your name here