दिल्ली-NCR में बढ़ रहे कोरोना केस, त्योहार और सर्दियों में खतरा ज्यादा: स्वास्थ्य मंत्रालय

0
File Photo

New Delhi/Atulya Loktantra News: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना ने एक बार फिर रफ्तार पकड़ी है. दिल्ली से सटे गुरुग्राम और फरीदाबाद में भी कोरोना के मामले बढ़े हैं. नीति आयोग ने मंगलवार को कहा कि दिल्ली के अलावा हरियाणा के गुरुग्राम और फरीदाबाद में कोरोना के मामलों में इजाफा हुआ है. स्वास्थ्य मंत्रालय और नीति आयोग की साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा गया कि क्योंकि त्योहार, प्रदूषण और ठंड ने दस्तक दे दी, तो ऐसे में लोगों को ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत है. आने वाले समय में कोरोना का एक पीक आ सकता है.

नीति आयोग ने कहा कि हरियाणा में सीरो सर्वे में 15-16 फीसदी लोग संक्रमित हुए हैं. लगभग 85 फीसदी आबादी संक्रमण से बची हुई है. यानी 85 फीसदी आबादी पर अब भी संक्रमण का खतरा है.

76 लाख से ज्यादा लोग हो चुके हैं ठीक
स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण ने कहा कि भारत में 76 लाख से ज्यादा लोग कोरोना से ठीक हो चुके हैं. अब तक 2000 से ज्यादा लैब्स की मदद से कोरोना के 11 करोड़ टेस्ट हो चुके हैं. देश में कोरोना का रिकवरी दर 92 फीसदी है. राजेश भूषण ने कहा कि जब से कोरोना शुरू हुआ है तबसे लेकर अब तक कुल पॉजिटिविटी रेट 7.4 फीसदी है. देश में प्रति लाख की आबादी में कोरोना के 5,991 मामले सामने आ रहे हैं. दुनिया में प्रति 10 लाख की आबादी पर 5,944 मामले रिपोर्ट हुए हैं.

राजेश भूषण ने कहा कि साप्ताहिक सकारात्मकता दर 4.4 फीसदी है, जबकि दैनिक सकारात्मकता दर 3.7 फीसदी है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि प्रति 10 लाख की आबादी पर भारत में 89 लोगों की मौत हुई है, जबकि दुनियाभर में प्रति 10 लाख की आबादी पर 154 मौतें हुई हैं. देश में सक्रिय मामलों की संख्या घटकर 5,41,405 हो चुकी है, यह दिखाता है कि हमारे अस्पतालों पर अनावश्यक बोझ नहीं है.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि टेस्ट, ट्रैक, ट्रेस और ट्रीट पर ध्यान देने की जरूरत है. राजेश भूषण ने कहा कि देश में जो स्थिति बेहतर हुई है उसे बचाकर रखने की जरूरत है. मास्क बहुत बड़ा सुरक्षा कवच है. इसका इस्तेमाल हमेशा करना है.

अपनी सलाह दे (देश की आवाज)

Please enter your comment!
Please enter your name here