बिहार चुनाव : पीएम की रैली से पहले तेजस्वी ने पूछे 11 सवाल, बिहार को अभी तक क्यों नहीं मिला विशेष राज्य का दर्जा

0
41

New Delhi/Atulya Loktantra: बिहार में दूसरे चरण के लिए मंगलवार यानि तीन नवंबर को मतदान होने हैं। जहां सभी राजनीतिक पार्टियां जोर-शोर से प्रचार में जुटी हैं। वहीं आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चार रैलियां हैं। दूसरी तरफ प्रधानमंत्री की रैली से ठीक पहले राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता तेजस्वी यादव ने रविवार सुबह फेसबुक पर पोस्ट किया है। उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी से कुछ सवाल पूछे हैं। इसके अलावा उन्होंने नीतीश कुमार भी निशाना साधा है।

तेजस्वी ने फेसबुक पर लिखा ये पोस्ट
महागठबंधन की तरफ से मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार तेजस्वी यादव ने अपनी फेसबुक पोस्ट पर लिखा है, ‘माननीय प्रधानमंत्री जी आज बिहार दौरे पर आ रहे हैं। क्योंकि वो बिहार में चुनावी प्रचार में आ रहे हैं तो बिहारवासियों को आशा ही नहीं पूर्ण विश्वास है कि वो सकारात्मकता के साथ केवल और केवल बिहार और बिहारवासियों के जीवन और बेहतरी से संबंधित ज्वलंत मुद्दों, समस्याओं और उनके कार्यकाल में हुए निवारण पर ही अपनी राय रखेंगे।’

50% for Advertising
Ads Advertising with us AL News

शिक्षा-स्वास्थ्य जैसे मुद्दों का जिक्र
राजद नेता ने लिखा, ‘मैं माननीय प्रधानमंत्री से बिहार की बेहतरी और विकास से जुड़े कुछ सवाल पूछना चाहता हूं क्योंकि उनके अधीन नीति आयोग की रिपोर्ट के अनुसार बिहार शिक्षा, स्वास्थ्य के सभी मानकों और सतत विकास सूचकांक में सबसे फिसड्डी राज्य है।’

तेजस्वी ने प्रधानमंत्री से पूछे ये 11 सवाल

1. प्रधानमंत्री जी बताएं कि नल-जल योजना पर लगातार शोर मचाने वाली बिहार की डबल इंजन सरकार कुल बजट का केवल चार फीसदी ही जल आपूर्ति और सैनिटेशन पर क्यों खर्च करती है? और उस चार फीसदी का भी 70 फीसदी हिस्सा भ्रष्टाचार की भेंट क्यों चढ़ जाता है?

2. प्रधानमंत्री जी बताएं कि देश के सबसे गरीब राज्यों में से एक बिहार में कुपोषण और भुखमरी पर कुल बजट का 2 प्रतिशत से भी कम क्यों खर्च होता है? 15 वर्ष से एनडीए सरकार रहने के बावजूद भी बिहार में कुपोषण और भुखमरी क्यों है?

3 . प्रधानमंत्री जी बताएं कि बिहार के युवाओं को पीएचडी इंजीनियरिंग, एमबीए, एमसीए करने के बाद भी चपरासी और माली बनने के लिए फॉर्म क्यों भरना पड़ता है?
4. प्रधानमंत्री जी बताएं कि बिहार बेरोजगारी का केंद्र क्यों है और बिहार में डबल इंजन सरकार में रिकॉर्ड तोड़ बेरोजगारी दर 46.6 प्रतिशत क्यों है?

5. प्रधानमंत्री जी बताएं कि जून में उनकी ओर से घोषित गरीब कल्याण रोजगार अभियान का लाभ लॉकडाउन में बिहार लौटे श्रमवीरों को क्यों नहीं मिला? क्यों बिहार के श्रमवीर वापस दूसरे राज्य पलायन करने को मजबूर हुए?

6 . प्रधानमंत्री जी बताएं मनरेगा योजना के अंतर्गत करवाए गए कार्यों का भुगतान श्रमवीरों को पिछले चार महीने से क्यों नहीं किया गया है? कौन दोषी है- केंद्र या राज्य?

7. प्रधानमंत्री जी बताएं कि गरीब कल्याण रोजगार अभियान के अंतर्गत बिहार के सर्वाधिक जिलों (84 प्रतिशत अथवा 32 जिलों) को डालने के बावजूद भी बिहार के श्रमवीरों की सबसे दयनीय दशा क्यों है?

8. प्रधानमंत्री जी बताएं कि अप्रैल से अगस्त के बीच कुल 11 लाख परिवारों को जॉब कार्ड जारी किए जाने के बावजूद बिहार में केवल 2,132 परिवार ही 100 कार्य दिवस पूरी कर पाए? ऐसा क्यों?

9. प्रधानमंत्री जी बताएं कि एनडीए की नीतीश सरकार अपने कुल बजट का केवल 2 प्रतिशत ही महादलितों पर क्यों खर्च करती है?

10. प्रधानमंत्री जी बताएं कि 2015 में उनकी ओर से घोषित एक लाख 65 हजार करोड़ के विशेष पैकेज की कितनी राशि बिहार को प्राप्त हुई और उसका कितना प्रतिशत विकास कार्यों पर खर्च हुआ? अगर पूर्ण राशि जारी नहीं हुई तो उसका जिम्मेवार कौन है?

11. प्रधानमंत्री जी बताएं कि डबल इंजन सरकार होने के बावजूद भी 2014 में किए गए उनके वादानुसार अभी तक बिहार को विशेष राज्य का दर्जा क्यों नहीं मिला है?

नीतीश को जनता करने वाली है रिटायर
तेजस्वी यादव ने कहा, ‘नीतीश कुमार जी ने एक फरमान जारी किया है जिसमें सरकारी कर्मचारियों को 50 साल की उम्र में रिटायरमेंट देने की बात कही गई है। खुद 70 से ज्यादा के हो गए हैं, लेकिन इस बार जनता उन्हें रिटायर करने जा रही है। हमारी सरकार बनेगी तो रिटायरमेंट की उम्र को बढ़ाएंगे।’

50% for Advertising
Ads Advertising with us AL News
Previous newsचार साल की बच्ची ने गाया वंदे मातरम, पीएम मोदी ने कहा मनमोहक और सराहनीय
Next newsदेश में आज से अनलॉक-6 शुरू, जानें किन-किन चीजों की मिली अनुमति
इस न्यूज़ पोर्टल अतुल्यलोकतंत्र न्यूज़ .कॉम का आरम्भ 2015 में हुआ था। इसके मुख्य संपादक पत्रकार दीपक शर्मा हैं ,उन्होंने अपने समाचार पत्र अतुल्यलोकतंत्र को भी 2016 फ़रवरी में आरम्भ किया था। भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से इस नाम को मान्यता जनवरी 2016 में ही मिल गई थी । आज के वक्त की आवाज सोशल मीडिया के महत्व को समझते हुए ही ऑनलाईन न्यूज़ वेब चैनल/पोर्टल को उन्होंने आरंभ किया। दीपक कुमार शर्मा की शैक्षणिक योग्यता B. A,(राजनीति शास्त्र),MBA (मार्किटिंग), एवं वे मानव अधिकार (Human Rights) से भी स्नातकोत्तर हैं। दीपक शर्मा लेखन के क्षेत्र में कई वर्षों से सक्रिय हैं। लेखन के साथ साथ वे समाजसेवा व राजनीति में भी सक्रिय रहे। मौजूदा समय में वे सिर्फ पत्रकारिता व समाजसेवी के तौर पर कार्य कर रहे हैं। अतुल्यलोकतंत्र मीडिया का मुख्य उद्देश्य राष्ट्रीय सरोकारों से परिपूर्ण पत्रकारिता है व उस दिशा में यह मीडिया हाउस कार्य कर रहा है। वैसे भविष्य को लेकर अतुल्यलोकतंत्र की कई योजनाएं हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here