पीएम मोदी को जान से मारने की धमकी देने वाला युवक गिरफ्तार

    4

    दिल्ली पुलिस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जान से मारने की धमकी देने वाले युवक को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने उसे खजूरी खास थाने से गिरफ्तार किया है। उसका नाम सलमान है और उसने 100 नंबर पीसीआर पर फोन करके पीएम नरेंद्र मोदी को जान से मारने की धमकी दी थी। जिसके बाद उसकी तलाश में लगी पुलिस ने उसे दबोच लिया है।

    जेल जाने के लिए दी धमकी

    दिल्ली पुलिस की गिरफ्त में आने के बाद आरोपी सलमान ने बताया है कि वह जेल जाना चाहता था, इसलिए उसने 100 नंबर पीसीआर पर फोन करके पीएम नरेंद्र मोदी को जान से मारने की धमकी दे डाली। गिरफ्तार युवक नशे का आदि है और अभी कुछ ही दिन पहले जेल से छुटकर बाहर आया है।

    दिल्ली पुलिस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जान से मारने की धमकी देने वाले युवक को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने उसे खजूरी खास थाने से गिरफ्तार किया है। उसका नाम सलमान है और उसने 100 नंबर पीसीआर पर फोन करके पीएम नरेंद्र मोदी को जान से मारने की धमकी दी थी। जिसके बाद उसकी तलाश में लगी पुलिस ने उसे दबोच लिया है।

    जेल जाने के लिए दी धमकी

    दिल्ली पुलिस की गिरफ्त में आने के बाद आरोपी सलमान ने बताया है कि वह जेल जाना चाहता था, इसलिए उसने 100 नंबर पीसीआर पर फोन करके पीएम नरेंद्र मोदी को जान से मारने की धमकी दे डाली। गिरफ्तार युवक नशे का आदि है और अभी कुछ ही दिन पहले जेल से छुटकर बाहर आया है।

    उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भी दो बार फोन पर जान से मारने की धमकी मिल चुकी है। सिरफिरे युवकों ने डायल 112 पर जान से मारने की धमकी भरा मैसेज भेजा था। इसके बाद पुलिस अलर्ट हो गई और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया था। एक धमकी देने वाला आरोपी नाबालिग भी था। पुलिस ने आरोपी को सुशांत गोल्फ सिटी थाने की पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। 21 मई 2020 को भी सीएम योगी को जान से मारने की धमकी मिली थी। यह धमकी भी यूपी पुलिस के 112 मुख्यालय में एक वॉट्सएप मैसेज के जरिए मिली थी। मैसेज में लिखा है कि ‘सीएम योगी को मैं बम से मारने वाला हूं। आरोपी को पुलिस ने चंद घंटों में गिरफ्तार कर लिया था। आरोपी कामरान की गिरफ्तारी के बाद यूपी पुलिस की सोशल मीडिया हेल्प डेस्क को एक और धमकी मिली थी। इस मैसेज में मुंबई से गिरफ्तार किए गए कामरान को छोड़ने और ऐसा न करने पर गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी गई। यूपी एटीएस ने इसकी जानकारी महाराष्ट्र एटीएस के साथ साझा की। इसके बाद महाराष्ट्र एटीएस ने जानकारी के बाद 20 साल के फैसल को गिरफ्तार कर लिया था।

     

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here