वरुण गांधी ने पीएम पर फोड़ा लेटर ‘बम’, बोले-एमएसपी पर बने कानून, केंद्रीय मंत्री को करें बर्खास्त

बीजेपी सांसद वरुण गांधी ने एक बार फिर से लेटर बम फोड़ा है। किसानों के मुद्दे पर अपनी सरकार पर हमलावर वरुण गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी को पत्र लिखकर एमएसपी पर कानून बनाने की मांग की है। वरुण गांधी ने तीनों कृषि कानून वापस लेने के फैसले का स्वागत करते हुए पीएम मोदी का धन्यवाद किया है साथ ही अपनी सरकार को घेरा भी है।

पीलीभीत से सांसद वरुण गांधी किसान के मुद्दे और लखीमपुर में हुई हिंसा को लेकर अपनी ही सरकार के खिलाफ आवाज बुलंद करने में गुरेज नहीं कर रहे हैं। वरुण गांधी की यह बात बीजेपी आलाकमान को नागवार भी गुजर रही है लेकिन अभी तक वह उन पर चुप्पी साधे हुए हैं। अब उन्होंने तीनों कृषि कानून वापस लेने के एक दिन बाद फिर से पीएम मोदी को पत्र लिखकर जहां अपनी मांग रखी है, वहीं विपक्ष को सरकार को घेरने का एक और मौका मिल गया है।

वरुण गांधी का पत्र?

मेनका गांधी के बेटे और पीलीभीत से बीजेपी सांसद वरुण गांधी ने पीएम मोदी को लिखे अपने पत्र में कहा है कि ‘देश का किसान पिछले एक साल से तीनों कृषि कानून को रद्द करने की मांग कर रहा था। प्रधानमंत्री ने इसे वापस लेने का ऐलान कर दिया है जो स्वागत योग्य फैसला है। वरुण गांधी ने कहा है कि इन एक साल के दौरान करीब 700 किसान भाई, बहनों की जान चली गई है। अगर यह फैसला पहले सरकार ले लेती तो शायद उनकी जान बच जाती। इसके साथ ही उन्होंने प्रधानमंत्री से प्रार्थना की है कि जिन किसान भाई, बहनों की मौत हुई है उन्हें शहीद का दर्जा दिया जाए। साथ ही उनके परिजनों को एक करोड़ की सहायता राशि उपलब्ध कराई जाए। इसके साथ ही उन्होंने किसानों पर दर्ज मुकदमे वापस लेने की भी मांग की है।

वरुण गांधी ने कहा है कि आपने एक मांग उनकी मांग ली है दूसरी मांग उनकी एमएसपी पर कानून बनाने की है। देश में 85 प्रतिशत छोटे और मध्यम वर्गीय किसान में रहते हैं। एमएसपी पर कानून बनने से उन्हें उनकी फसल का पूरा लागत मिलेगा और उनकी फसल बर्बाद नहीं होगी। उन्होंने कहा है कि 50 फीसदी किसानों की फसल का आधा दाम बिचौलिए और मंडी में मिलकर ले लेते हैं। इसलिए सरकार किसानों की यह बात भी माने और एमएसपी पर कानून बनाकर उन्हें बड़ा तोहफा दे। जिससे देश की इकोनॉमी भी सुधरेगी और किसान अपनी फसल का पूरा पैसा भी वसूल कर पाएगा।

वरुण गांधी ने अपनी पार्टी के कुछ सीनियर नेताओं पर भी निशाना साधा है। उन्होंने 3 अक्टूबर को हुई लखीमपुर हिंसा का भी जिक्र करते हुए कहा है कि पार्टी में बैठे कुछ नेता सरकार की छवि को धूमिल करने में लगे हुए हैं। लखीमपुर की हिंसा को शर्मनाक बताते हुए उन्होंने केंद्रीय मंत्री पर कार्रवाई की मांग की है। जिससे इसकी निष्पक्ष तरीके से जांच हो सके। वरुण गांधी ने कहा है कि देश संविधान से चलता है, आप किसानों की मांग को मान लेंगे तो उनकी समस्या का समाधान हो जाएगा और आप पर उनका भरोसा बढ़ेगा। इससे देश और संविधान की नींव मजबूत होगी। उन्होंने पीएम से अपील की है कि वह जल्द एमएसपी पर भी कानून बनाकर किसानों की समस्याओं का समाधान कर दें।

Leave a Comment