जुलाई में राज्यों को मिलेंगे सिर्फ 12 करोड़ टीके, वैक्सीनेशन अभियान धीमा पड़ने की आशंका

Coronavirus Vaccination: देश में 21 जून के बाद तेज हुआ वैक्सीनेशन अभियान जुलाई और अगस्त महीने के दौरान धीमा पड़ सकता है। पहले केंद्र सरकार की ओर से जुलाई और अगस्त महीने के दौरान हर दिन करीब एक करोड़ टीके लगाने का दावा किया गया था मगर सरकार का यह दावा पूरा होने की कोई उम्मीद नहीं दिख रही है।

जानकार सूत्रों के अनुसार जुलाई महीने के दौरान केंद्र सरकार की ओर से राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को वैक्सीन की 12 करोड़ डोज ही उपलब्ध कराई जाएगी। ऐसे में जुलाई में हर दिन एक करोड़ टीके के लक्ष्य का सपना पूरा नहीं हो पाएगा।

इसके साथ ही सरकार ने दिसंबर तक वैक्सीन की उपलब्धता पर भी यूटर्न ले लिया है। पहले सरकार की ओर से इस साल 31 दिसंबर तक देश के पास 216 करोड़ से ज्यादा डोज होने का दावा किया गया था मगर अब सरकार की ओर से दिसंबर तक 135 करोड़ डोज ही उपलब्ध होने की बात कही जा रही है। सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में दाखिल हलफनामे में खुद ही यह बात कही है।
सरकारी सूत्रों के मुताबिक जुलाई महीने के दौरान सरकार की ओर से उपलब्ध कराई जाने वाली 12 करोड़ डोज में दस करोड़ डोज कोविशील्ड की होगी जबकि कोवैक्सीन की दो करोड़ खुराकें उपलब्ध कराई जाएंगी। सरकार की ओर से पूर्व में की गई घोषणा के मुताबिक इन 12 करोड़ खुराकों का 75 फ़ीसदी हिस्सा राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को उपलब्ध कराया जाएगा जबकि 25 फ़ीसदी वैक्सीन निजी अस्पतालों को दी जाएगी।

Leave a Comment