ED के समक्ष 23 को पेश नहीं होंगी सोनिया गांधी !

नयी दिल्ली। नेशनल हेराल्ड मामले को लेकर कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्षा सोनिया गांधी ने प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को चिट्ठी लिखी है। इस चिट्ठी के जरिए सोनिया गांधी ने ईडी से पेश होने के लिए कुछ हफ्तों का वक्त मांगा है। दरअसल, सोनिया गांधी कोरोना वायरस की चपेट में आ गई थीं। ऐसे में उन्होंने स्वास्थ्य दिक्कतों का हवाला देते हुए ईडी से पेश होने के लिए कुछ हफ्तों का वक्त मांगा है।

सोनिया गांधी के फेफड़ों में था संक्रमण

पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने बताया कि सोनिया गांधी ने आज ईडी को पत्र लिखकर उनके पूरी तरह से ठीक होने तक अगले कुछ हफ्तों के लिए उनकी उपस्थिति को स्थगित करने का अनुरोध किया है। जयराम रमेश ने ट्वीट में लिखा कि कांग्रेस अध्यक्षा श्रीमती सोनिया गांधी को कोरोना और फेफड़ों के संक्रमण के कारण अस्पताल में भर्ती होने के बाद डॉक्टरों द्वारा घर पर आराम करने की सख्त सलाह के दृष्टिगत…

उन्होंने ट्वीट किया कि श्रीमती सोनिया गांधी ने आज ईडी को पत्र लिखकर उनके पूरी तरह से ठीक होने तक अगले कुछ हफ्तों के लिए उनकी उपस्थिति को स्थगित करने का अनुरोध किया है।

23 जून को होना था पेश

नेशनल हेराल्ड मामले में ईडी ने सोनिया गांधी को 23 जून को पूछताछ के लिए तलब किया था। हालांकि उन्होंने ईडी से अभी कुछ हफ्तों का वक्त मांगा है। आपको बता दें कि सोनिया गांधी का गंगाराम अस्पताल में इलाज चल रहा था, जहां से उन्हें सोमवार को छुट्टी दे दी गई थी।

ED ने राहुल से 5 दिन पूछे सवाल

ईडी ने राहुल गांधी से शुरुआत में लगातार 3 दिनों की पूछताछ की थी। इस दौरान उनसे रोजाना दो राउंड की पूछताछ होती थी। पहले राउंड की पूछताछ के बाद लंच ब्रेक दिया जाता था उसके बाद राहुल गांधी वापस से अधिकारियों के सवालों का सामना करने के लिए ईडी दफ्तर पहुंच जाते। शुरुआती 3 दिनों की पूछताछ के बाद राहुल गांधी के अनुरोध पर 4 दिनों बाद फिर से राहुल गांधी से लगातार दो दिनों तक पूछताछ हुई। इस दौरान राहुल गांधी को कोई भी वीआईपी ट्रीटमेंट नहीं दिया गया था।

Leave a Comment