सीरियल किलर ने की 4 की हत्या: सागर में ड्यूटी पर सोते मिलने वाले चौकीदार निशाने पर; पुलिस ने स्कैच जारी किया

सागर में सिरफिरा सीरियल किलर घूम रहा है। इसके निशाने पर चौकीदार हैं। ये ड्यूटी के दौरान सोते मिलने वाले चौकीदारों को मौत के घाट उतार रहा है। सागर में सिलसिलेवार 4 चौकीदारों की हत्या कर चुका है। वारदात का पैटर्न एक जैसा है, जिससे पुलिस को किसी सीरियल किलर के होने का संदेह है। लगातार हो रही हत्याओं से शहर के लोग दहशत में हैं।

मामले को लेकर गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कहा, घटना प्रशासन के संज्ञान में आई है। मेरी एसपी से बात हुई है। पूरे पुलिस फोर्स को अलर्ट किया गया है। रात्रि गश्त टीमों को भी अलर्ट किया गया है। जनजागरण के साथ सीसीटीवी फुटेज भी निकलवा रहे हैं। एक दो फुटेज में एक व्यक्ति दौड़ता भागता दिख रहा है, जल्दी इसके निष्कर्ष पर पहुंच जाएंगे। प्रथम दृष्टया ये बताया जा रहा है कि एक ही व्यक्ति ऐसी घटनाएं कर रहा है, लेकिन जब तक पकड़ा नहीं जाता, तब तक कुछ भी कहना भ्रम पैदा करेगा। ये जल्दबाजी कहलाएगी।

सीरियल किलिंग की गुत्थी सुलझाने में उलझी पुलिस
अब तक की जांच में पुलिस को एक सीसीटीवी फुटेज मिला है, जिसमें संदिग्ध सफेद शर्ट और हाफ पैंट पहने दिखा है। पुलिस ने संदिग्ध का स्कैच जारी किया है। बुधवार देर रात तक मोतीनगर थाना क्षेत्र के जंगल में पुलिस आरोपी की तलाश करती रही। लगातार हो रही हत्याओं की गुत्थी सुलझाने में पुलिस उलझी हुई है। एडिशनल एसपी विक्रम सिंह कुशवाहा ने बताया कि संदिग्ध की तलाश चल रही है। कैंट और सिविल लाइन की हत्या के मामले में एक ही आरोपी की जानकारी मिली है। वह मोतीनगर थाना इलाके में देखा गया है।

निर्माणाधीन मकान में सोते समय किया हमला
कैंट थाना क्षेत्र के भैंसा में कारखाने में सो रहे चौकीदार के सिर पर हथौड़ा मारकर और आर्ट एंड कॉमर्स कॉलेज के चौकीदार के सिर पर पत्थर पटककर हत्या कर दी गई। इसके बाद मोतीनगर थाना क्षेत्र के रतौना में निर्माणाधीन मकान में रात के समय सो रहे व्यक्ति मंगल पर फावड़े से जानलेवा हमला किया गया है। घायल मंगल को इलाज के लिए भोपाल रैफर किया गया, जहां उसकी मौत होने की सूचना है। पुलिस काे शक है कि यह वही सीरियल किलर है। इसके पहले 1 मई को मकरोनिया थाना क्षेत्र में निर्माणाधीन ब्रिज के नीचे सोते समय चौकीदार की हत्या की गई थी।

आरोपी का मकसद लूटपाट नहीं
सागर में हुई चौकीदारों की हत्यारों में आरोपी ने एक ही पैटर्न अपनाया है, जिससे वारदात में एक ही आरोपी के होने की आशंका को बल मिला है। आरोपी अपने साथ कोई भी हथियार नहीं लाता है। उसे वारदात स्थल पर जो भी औजार मिलता है, उससे ही वारदात को अंजाम देता है। लूटपाट करना उसका मकसद नहीं है, क्योंकि चौकीदारों की हत्याओं में किसी के साथ भी लूट नहीं हुई है। सिर्फ वह मोबाइल साथ लेकर जाता है और सिम कॉर्ड मौके पर ही फेंक जाता है। इसके अलावा आरोपी ड्यूटी के दौरान सोते मिलने वाले चौकीदारों को ही अपना निशाना बना रहा है।

मोबाइल ने बढ़ाई सीरियल किलिंग की आशंका
सोमवार की रात आर्ट एण्ड कॉमर्स कॉलेज के कैंटीन भवन में चौकीदार शंभूदयाल दुबे का शव मिला था। चौकीदार की हत्या सिर पर पत्थर पटककर की गई थी। पुलिस मौके पर पहुंची और जांच की। जांच के दौरान पुलिस को शव के पास से एक मोबाइल मिला। पहले वह मोबाइल मृतक चौकीदार दुबे का माना जा रहा था। लेकिन बाद में पता चला कि वारदात स्थल से जब्त हुआ मोबाइल कैंट थाना क्षेत्र के भैंस में शनिवार की रात हुई वारदात मारे गए चौकीदार कल्याण लोधी का है।

यह साक्ष्य सामने आने के बाद पुलिस दंग रह गई, जिसके बाद सीरियल किलिंग के बिंदु पर काम शुरू किया गया। दोनों ही वारदात में एक ही आरोपी के होने की बात कही जा रही है। हालांकि अब एक और वारदात सामने आई है। एसपी तरुण नायक ने कहा कि पुलिस हत्या के मामलों में जांच कर रही है। जनता से अपील है कि वारदातों के संबंध में किसी को कोई सुराग और जानकारी मिले तो तुरंत पुलिस को सूचना दें। उसका नाम गोपनीय रखा जाएगा। रात के समय भी कोई संदिग्ध नजर आए तो तत्काल पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दें।

Leave a Comment