Remdesivir इंजेक्शन अब होगा और सस्ता, सरकार ने लिया ये बड़ा फैसला

    20

    नई दिल्ली: कोरोना वायरस की दूसरी लहर (Corona Virus 2nd Wave) की दस्तक होने के बाद से संक्रमण की रफ्तार बेकाबू हो गई है। देश में तेजी से कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ने लगी है। इस बीच कोविड-19 (Covid-19) के इलाज में कारगर मानी जाने वाली दवा रेमडेसिविर (Remdesivir) की मांग काफी ज्यादा बढ़ गई है। ऐसे में केंद्र की मोदी सरकार ने ये दवा पर्याप्‍त मात्रा में उपलब्‍ध हो सके, इसलिए बड़ा फैसला किया है।

    रेमडेसिविर इंजेक्‍शन की बढ़ती मांग के बीच केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल (Piyush Goyal) ने घोषणा की है कि इंजेक्‍शन को बनाने में इस्‍तेमाल होने वाले कच्‍चे माल (Remdesivir API) के आयात पर कोई शुल्‍क नहीं वसूला जाएगा। इसके साथ ही केंद्र ने रेमडेसिविर इंजेक्‍शन के आयात को भी ड्यूटी फ्री (Import Duty Free) कर दिया है।

    केंद्र के इस ऐलान के बाद यह उम्मीद की जा रही है कि आने वाले दिनों में देश में कोरोना के इलाज में कारगार मानी जा रही ये दवा पर्याप्‍त मात्रा में उपलब्‍ध हो सकेगी। वहीं, इस फैसले के बारे में रेलमंत्री पीयूष गोयल (Piyush Goyal) ने ट्वीट करते हुए बताया कि

    COVID-19 रोगियों के लिए सस्ती चिकित्सा देखभाल सुनिश्चित करने के लिए रेमेडेसिविर एपीआई के आयात, इंजेक्शन और विशिष्ट इनपुट को आयात शुल्क मुक्त (Import Duty Free) बनाया गया है। इससे आपूर्ति में वृद्धि होनी चाहिए और इस तरह से कोरोना से जूझ रहे मरीजों को राहत मिलेगी।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here