रामलीला महासंघ ने मंचन से पहले CM केजरीवाल को लिखा पत्र, गाइडलाइंस जारी करने की उठाई मांग

Delhi News: त्योहारों का सीजन शुरू हो गया है दशहरा से पहले राम लीला का मंचन दिल्ली सहित देशभर में अक्तूबर से शुरू हो जाता है। राजधानी में रामलीला की प्रस्तुति से पहले प्रमुख संगठन रामलीला महासंघ ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपराज्यपाल अनिल बैजल (LG Anil Baijal) को एक पत्र लिखा है। रामलीला के मंचन के लिए रामलीला (Ramlila) में हिस्‍सा लेने वाले कलाकारों का दिन रात रिहर्सल शुरू हो गया है।

रामलीला महासंघ ने अपने पत्र में अक्टूबर के पहले सप्ताह से शुरू हो रही रामलीलाओं के मंचन को देखते हुए डीडीएमए (DDMA) द्वारा तुरंत गाइडलाइंस (Guidelines) जारी करने की मांग की है। महासंघ के कार्यकारी अध्यक्ष अशोक अग्रवाल ने पत्र में कहा है कि दिल्ली-एनसीआर की सभी प्रमुख कमेटियों ने रामलीला मंचन को लेकर अपनी-अपनी प्लानिंग शुरू कर दी है लेकिन डीडीएमए की गाइडलाइंस अभी तक जारी नही हुई हैं।

पिछले साल भी गाइडलाइंस जारी करने में हुई थी देरी

बताया जा रहा है कि कोरोना के चलते पिछले साल भी डीडीएमए ने लीला मंचन की अनुमति देने में देरी कर दी थी जिसके कारण ज़्यादातर कमेटियां रामलीला मंचन नही कर पाई थीं। चूंकि लीला मंचन की योजना बनाने से लेकर कलाकारों को इकठ्ठा करने और फिर रिहर्सल के साथ ही सभी तैयारियां करने में कम से कम एक महीने से ज़्यादा का वक़्त लग जाता है।

रामलीला महासंघ का कहना है कि इस बार दिल्ली-एनसीआर में कोरोना के मामले भी काफी कम हैं लिहाजा डीडीएमए को इस बार अभी से रामलीला मंचन से जुड़ी गाइडलाइंस जारी क़र देनी चाहिए।

सभी प्रमुख बाजार खुल गए हैं

अग्रवाल ने आगे कहा कि अब जब सरकार ने सभी प्रमुख बाजार, सिनेमाघर, क्लब , स्पा, रेस्तराँ, जिम , स्कूल बैंक्वेपट हाल, वीकली मार्केट को सुरक्षा नियमों के साथ खोल दिया है तो सभी धर्म प्रेमियों की भावनाओ को ध्यान में रखते हुए डीडीएमए को रामलीला मंचन से जुड़ी गाइडलाइंस तुरंत जारी कर देनी चाहिए। ताकि उनके अनुसार सभी व्यडवस्थालएं की जा सकें और स्वांस्य्नक सुरक्षा के नियमों का भी पालन किया जा सके।

 

 

Leave a Comment