देश में कुछ अच्छा होने पर राहुल को होती है चिढ़: बीजेपी

नई दिल्ली: कोरोना काल में दवा, ऑक्सीजन व अस्पतालों में बेडों की कमी को लेकर राहुल गांधी लगातार बीजेपी सरकार को घेरने का प्रयास कर रहे हैं। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष कांग्रेस राहुल गांधी ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस कर केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा। इसी कड़ी में मंगलवार को एकबार फिर उन्होंने कोरोना महामारी के दौरान लापरवाही और टीकाकरण को लेकर सरकार से कई सवाल दागे हैं। राहुल गांधी के इसी हमले का बीजेपी ने भी कड़ा जवाब दिया है। बीजेपी प्रवक्ता प्रवक्ता संबित पात्रा ने राहुल गांधी की तरफ से दागे गए तमाम सवालों का जवाब देते हुए कहा कि जब भी देश में जब कुछ अच्छा होता है और हिंदुस्तान अच्छा परफॉर्म करता है, तो कांग्रेसियों को कहीं न कहीं उससे चिढ़ होती है।

राहुल गांधी से सब्र नहीं हो पाता और वो प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए उस पूरे विषय पर एक प्रश्नचिन्ह लगाने का काम करने लगते हैं। बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि योग दिवस के साथ ही कल का दिन काफी महत्वपूर्ण था। उन्होंने कहा कि पूरे विश्व में कल हिंदुस्तान एक मात्र ऐसा देश बना जिसने एक ही दिन में करीब 87 लाख लोगों का टीकाकरण किया।

संबित पात्रा ने कहा कि कोरोना के खिलाफ जारी लड़ाई में जब भी निर्णायक मोड़ आए तब-तब के राहुल गांधी और कांग्रेस पार्टी ने राजनीति करने का पूरा प्रयास किया है। कांग्रेस ने भारत की कोरोना से इस लड़ाई को कहीं न कहीं डिरेल करने का अथक परिश्रम किया है। उन्होंने हकीकत का सामना कराते हुए कहा कि कोरोना का सेकेंड वेव कांग्रेस शासित राज्य से शुरू हुआ। इतना ही नहीं कांग्रेस शासित राज्यों में इसका सबसे ज्यादा असर पड़ा और सर्वाधिक मामले भी आए। लापरवाही का आलम यह रहा कि सबसे ज्यादा मौतें भी कांग्रेस शासित राज्यों में हुईं। वैक्सीनेशन को लेकर भी कांग्रेस की तरफ से भ्रम पैदा किया गया। कांग्रेस शासित राज्यों ने कोवैक्सीन को लेकर इनकार किया जिसका नतीजा रहा कि वहां सर्वाधिक मृत्यु दर रही।

Leave a Comment