प्रियंका गांधी का पीएम मोदी पर हमला, बोलीं- सरकार का अहंकार टूटा, किसानों की जीत, चुनाव में हार के डर से लिया फैसला

Krishi kanoon Bill par priyanka gandhi ka Statement: तीनों कषि कानून (Krishi Kanoon Bill repeal) की वापसी की घोषणा के बाद अब यूपी समेत पूरे देश में सियासत तेज हो गई है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Congress General Secretary Priyanka Gandhi Vadra) आज कौल निवास पर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मोदी सरकार (Priyanka Gandhi ka modi sarkar par hamla) पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि आज प्रधानमंत्री को याद आया है कि किसान आंदोलन (Kisan Andolan) कर रहे हैं, आज वह माफी मांगने आए हैं। जब 600-700 किसानों शहीद हो गए हैं। प्रियंका (farmer laws par priyanka gandhi ka reaction) ने कहा कि क्या यह देश के किसान नहीं समझ रहे हैं कि प्रधानमंत्री का यह फैसला किस लिए आया है। उन्होंने कहा कि चुनाव (Up Election 2022) आया तो उन्हें हार का डर सताने लगा और वह माफी मांगने आ गए। प्रियंका ने कहा कि जो सरकार है उनके नेताओं ने ही किसानों को क्या-क्या बोला है। किसानों को आंदोलन जीबी, गुंडे, आतंकवादी, देशद्रोही यह सब किसने कहा जब यह सब कह रहे थे तो प्रधानमंत्री जी चुप क्यों थे। जब किसानों की हत्या हो रही थी, जब किसानों को मारा जा रहा था, जब लाठियां बरसाई जा रही थी, जब उन्हें गिरफ्तार किया जा रहा था, तब कहां थे आप। यह सब आपकी सरकार ही कर आ रही थी। तब आप कहां थे। आज आप आकर कह रहे हैं कि कानून आप वापस ले रहे हैं और माफी मांग रहे हैं। ये देश कैसे आप पर भरोसा करेगा। आपकी नियत पर किसानों को कैसे भरोसा होगा।

यूपी चुनाव जीतने के लिए मोदी सरकार ने लिया ये फैसला (Priyanka Gandhi Vadra statement)

प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi Vadra statement) ने कहा कि शहीद दलजीत सिंह (Shaheed Daljit Singh) के परिवार उनकी पत्नी पर मेरा ध्यान गया। उन्होंने कहा था उनके बच्चे हैं, उन्होंने मुझसे कहा था मुझे बच्ची को लेकर डर है। मैं यहां अकेले रहती हूं। जिस सरकार के मंत्री ने उनके परिवार के सज्जन को कुचला। पीएम जब लखनऊ आये थे तब मिलने नहीं गए। पीएम मोदी (Pm modi) चुनाव के माहौल को देखकर माफी मांग रहे। वो जान रहे हैं कि जो सर्वे आया है। मुझे खुसी है कि आज सरकार जान चुकी है कि किसानों से बड़ा कोई नहीं है।

केंद्रीय मंत्री अजय मिश्र टेनी को लेकर साधा निशाना (Union Minister Ajay Mishra Teni)

प्रियंका गांधी ने एक बार फिर लखीमपुर हिंसा (Lakhimpur Kheri Violence) के मुद्दे पर केंद्रीय मंत्री अजय मिश्र टेनी (Union Minister Ajay Mishra Teni) को लेकर मोदी सरकार (Modi government) को घेरा। उन्होंने कहा मंत्री जो अरोपी था आज भी वो सरकार के लोगों के साथ खड़ा दिखाई देता है। जो लखीमपुर (Lakhimpur Kheri hinsa) में हुआ उस मंत्री को बर्खास्त किया जाए। ललितपुर गई वहां खाद की लाइन में खड़े खड़े किसान की मौत हो गई। कई समस्याएं है किसानों की। मुझे खुशी है सभी विपक्षी दल किसानों के काले कानून के खिलाफ एक साथ खड़े रहे। मैं शहीद किसानों को श्रद्धांजलि देती हूं।

प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi Vadra profile) ने कहा कि यह आंदोलन किसानों का था किसान शहीद हुए हैं इसमें हमने व अन्य सभी दलों ने समर्थन किया लेकिन इसका श्रेय किसानों को ही जाता है जो आज हुआ वह अहंकार की हार है और किसानों की जीत सरकार समझ गई है कि उसे झुकना पड़ेगा मेरे भाई (राहुल गांधी) ने भी यह बयान दिया था कि सरकार को झुकना पड़ेगा जो कानून किसानों के खिलाफ है आगे भी वह सभी खत्म होने चाहिए।

Leave a Comment