पंचायत चुनाव: जीत के जश्न में भूले कोरोना प्रोटोकॉल, जमकर उड़ाईं धज्जियां

    5

    मैनपुरी: सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के निर्देश के बाद राज्य निर्वाचन आयोग ने पंचायत चुनावों (UP Panchayat Election) में जीत के बाद किसी भी तरह का जश्न और जुलूस (Celebration and procession)आदि निकालने की पाबंदी लगा रखी है। किसी भी तरह से जश्न या जुलूस निकालने पर संबंधित थाना प्रभारी को जिम्मेदार मानकर थाना प्रभारी पर कार्यवाही करने का आदेश दिया था। पर इस आदेश का जनपद के बरनाहल थाना क्षेत्र के बरनाहल विकास खण्ड के गांव नगला भाई खां में नवनिर्वाचित ग्राम प्रधान सत्य प्रकाश ने जीत के अति उत्साह में अपने समर्थकों के साथ जश्न व जुलूस निकालकर जमकर आतिशबाजी की। नवनिर्वाचित प्रधान सत्य प्रकाश ने राज्य चुनाव आयोग के सभी दिशा निर्देशों की जमकर धज्जियाँ उड़ाईं।

    जुलूस में बड़ी संख्या में ग्रामीण नारे लगाते हुए चल रहे थे, जुलूस में शामिल भीड़ में किसी ने भी मास्क का प्रयोग नहीं किया था। जुलूस में कोरोना प्रोटोकॉल व सोशल डिस्टेंस की जमकर धज्जियां उड़ाईं गईं। जैसे ही जश्न और जुलूस निकालने की सूचना पुलिस को मिली तुरंत ही बरनाहल थाना प्रभारी भारी पुलिस बल को लेकर मौके पर पहुंचे। पुलिस को देखते ही प्रधान और उसके समर्थक खेतों में भागते हुए फरार हो गए। पुलिस ने प्रधान के कुछ समर्थकों को पकड़ लिया है। थाना प्रभारी ने बताया है कि जल्द ही प्रधान और उसके समर्थकों को पकड़ कर कड़ी कार्यवाही की जाएगी।

    जालौन में भी चुनाव आयुक्त एवं जिला प्रशासन की रोक के बाद भी चुनाव जीते प्रत्याशी नहीं मान रहे आदेश। कोरोना काल में सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाते हुए गांव में प्रधान अपने समर्थकों ने निकाला भारी संख्या में विजय जुलूस मौके पर पहुंची पुलिस ने नवनिर्वाचित प्रधान सहित समर्थक को किया गिरफ्तार फरार समर्थकों की पुलिस कर रही है खोजबीन।

    कोटरा थाना क्षेत्र के ग्राम कुरुकुरु में 2 मई की मतगणना में पंचायत चुनाव मैं नवनिर्वाचित चुने गए प्रधान प्रवीण कुशवाहा एवं क्षेत्र पंचायत सदस्य गजेंद्र सिंह अपने भारी समर्थकों के साथ गांव में विजय जुलूस निकालकर कोरोनावायरस प्रोटोकॉल एवं सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाई। वहीं, कुछ समर्थकों ने मुंह पर मार्क्स तक नहीं लगाया था ।इस बात की खबर लगते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने विजय जुलूस में शामिल नवनिर्वाचित प्रधान एवं समर्थकों को गिरफ्तार किया। बाकी समर्थक पुलिस को देख कर मौके से भाग खड़े हुए । प्रतिनिधियों के समर्थकों की पुलिस खोजबीन कर रही है।

    प्रभारी निरीक्षक सुधांशु पटेल ने बताया कि जिला प्रशासन की रोक के बावजूद भी नवनिर्वाचित प्रधान अपने कुछ समर्थकों के साथ घर घर जाकर जनसंपर्क कर रहे थे ।फिलहाल प्रधान एवं दो समर्थकों को पकड़ा गया है जांच की जा रही है। जिसमें जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here