ऑनलाइन कुमाउनी युवा कवि सम्मेलन हुआ संपन्न

फरीदाबाद : कुमाउनी भाषा के संरक्षण और संवर्धन के लिए समर्पित एवं राष्ट्रीय स्तर पर कुमाऊनी भाषा पर कार्य कर रहे व्यक्तित्वों को संगठित कर नव-निर्मित कुमाऊनी भाषा, साहित्य एवं सांस्कृतिक समिति, नई दिल्ली द्वारा रविवार 26 जून 2022 को अपना प्रथम कुमाऊनी युवा कवि सम्मेलन बिनौड़ 2022 आयोजित किया गया ।

बिनौड़ 2022 एक अभिनव प्रयास था जिसमें सभी कवि 25 वर्ष की आयु सीमा में थे । सम्मेलन का लक्ष्य न केवल युवा पीढ़ी को कुमाउनी भाषा बोलने और लिखने हेतु प्रेरित करना था बल्कि आज के समय में कुमाउनी भाषा हेतु युवा साथियों के ऊर्जादायक प्रयास सुनिश्चित करना भी था ।

ऑनलाइन सम्मेलन बहुत ही सुंदर और संतुलित रूप से आगे बढ़ा जिसमें प्रदीप कुमार आर्य, हिमानी डसीला, प्रकाश पांडेय, ललित तुलेरा, पियूष धामी, संतोष जोशी और दीपक भाकुनी ने अपनी दो-दो कविताएं पढ़ी । कार्यक्रम का संचालन दीपक भाकुनी ने किया और अध्यक्षता कुमाऊनी और हिंदी की सशक्त हस्ताक्षर प्रोफेसर प्रभा पंत विभागाध्यक्ष हिंदी विभाग, डिग्री कॉलेज हल्द्वानी ने किया ।

समिति के अध्यक्ष डॉ मनोज उप्रेती जी ने सभी कवियों एवं ऑनलाइन उपस्थित साथियों का स्वागत किया और समिति के महासचिव श्री सुरेंद्र सिंह रावत ने अंत में सभी को धन्यवाद दे कर कार्यक्रम का समापन किया ।सभी कवियों ने संस्कृति, समाज और प्रकृति प्रधान विषयों पर अपनी सुन्दर स्वलिखित अभिव्यक्तियां बड़े ही मनमोहक अंदाज़ में प्रस्तुत की । युवा लेखकों द्वारा इस प्रकार समाज और सम-सामयिक विषयों पर लिखना तथा उसका सुन्दर प्रस्तुतिकरण इस सम्मेलन का विशेष आकर्षण रहा । तथा ऑनलाइन माध्यम से भारत के विभिन्न प्रदेशों से जुड़े श्रोताओं ने कार्यक्रम का भरपूर आनंद लिया और युवा कवियों का उत्साहवर्धन किया ।

Leave a Comment