दिल्ली में बढ़ा ओमिक्रॉन का खतरा, मिले 15 संदिग्ध ! सभी LNJP अस्पताल में भर्ती

Omicron Variant: दुनिया भर में कहर मचा रहे कोरोना वायरस (Covid- 19) के नए ‘ओमिक्रॉन वेरिएंट’ (Omicron Variant) को लेकर देशवासियों में डर लगातार बढ़ता ही जा रहा है। महाराष्ट्र, कर्नाटक और गुजरात में ओमिक्रॉन से पीड़ितों के मामले सामने आए हैं। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में भी अब खतरा बढ़ता जा रहा है। जानकारी के अनुसार, ‘हाई रिस्क’ देशों (High Risk Countries) से लौटे 15 यात्रियों को दिल्ली के लोक नायक जयप्रकाश नारायण अस्पताल (LNJP) में भर्ती कराया गया है। इन सभी यात्रियों के सैंपल जीनोम सीक्वेंसिंग (Genome Sequencing) के लिए भेजे गए हैं। इस रिपोर्ट को आने में चार से पांच दिन लग सकते हैं।

एक समाचार एजेंसी को संबंधित अधिकारियों ने बताया, कि जिन 15 संदिग्ध मरीजों को भर्ती कराया गया है, उनमें से 09 कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। शेष, 6 मरीजों में गले में खराश और और बुखार जैसे लक्षण दिखे हैं। इसलिए उन्हें एहतियातन भर्ती किया गया है।

LNJP ओमिक्रॉन संक्रमितों के लिए रिजर्व

बता दें, कि बीते हफ्ते ही दिल्ली सरकार ने LNJP अस्पताल को ओमिक्रॉन संक्रमितों के इलाज के लिए रिजर्व किया था। शुक्रवार तक LNJP अस्पताल में भर्ती संदिग्ध मरीजों की संख्या 12 से बढ़कर अब 15 हो गई है। इस सम्बन्ध में अस्पताल के मेडिकल डायरेक्टर (medical director) डॉ. सुरेश कुमार ने बताया, कि जो तीन नए मरीजों को भर्ती कराया गया है वो सभी ब्रिटेन से लौटे हैं।

केंद्र सरकार की सूची में ये ‘हाई रिस्क’ वाले देश

आपको बताते चलें कि ‘ओमिक्रॉन वेरिएंट’ (Omicron Variant) के बढ़ते खतरे के मद्देनजर केंद्र सरकार ने जिन देशों को ‘हाई रिस्क’ वाले देशों की सूची में रखा है वो हैं, ब्रिटेन, दक्षिण अफ्रीका, चीन, मॉरिशस, ब्राजील, जिम्बाब्वे, बोत्सवाना, न्यूजीलैंड, सिंगापुर, हॉन्गकॉन्ग तथा इजरायल। इन सभी देशों से आने वाले यात्रियों को आरटीपीसीआर (RTPCR) टेस्ट कराना अनिवार्य है।

देश में अब तक पीड़ितों की संख्या चार थी

गौरतलब है, कि देश में अब तक कोरोना के इस नए वेरिएंट से संक्रमित मरीजों की संख्या चार है। जिसमें दो कर्नाटक से तथा एक-एक महाराष्ट्र और गुजरात से हैं। बताया जा रहा है कि कर्नाटक में मिले दोनों पीड़ितों की उम्र क्रमशः 66 और 46 साल है। इन दोनों में ही हल्के लक्षण मिले है। लेकिन खास बात है कि दोनों ही दक्षिण अफ्रीका से लौटे थे। जबकि, गुजरात में पीड़ित व्यक्ति की उम्र 72 वर्ष है।

Leave a Comment