अतुल्य लोकतंत्र न्यूज़

कोई वकील नहीं लड़ेगा कन्हैया हत्याकांड के आरोपियों का केस, सीधे फांसी पर चढ़ाने की मांग

उदयपुर में टेलर कन्हैया लाल की हत्या का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। राज्य की गहलोत सरकार ने हत्या के दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है और 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भी भेजा गया है। लेकिन अब बड़ी खबर ये सामने आ रही है कि उदयपुर के वकीलों ने कन्हैया लाल हत्याकांड के दोनों आरोपियों रियाज और मोहम्मद गौस का केस नहीं लड़ने का फैसला किा है। उदयपुर की बार एसोसिएशन के अध्यक्ष गिरिजा शंकर मेहता ने कहा कि हम चाहते हैं आरोपियों को फांसी हो. साथ ही उन्होंने ऐलान करते हुए कहा कि जिले का कोई भी वकील उनका केस नहीं लड़ेगा। उनका अपराध सामान्य नहीं बल्कि ये एक आतंकवादी घटना है। हम चाहते हैं आरोपियों को फांसी हो।

32 आईपीएस अधिकारियों का हुआ तबादला

राजस्थान सरकार ने देर रात उदयपुर के पुलिस महानिरीक्षक (आईजी) और पुलिस अधीक्षक सहित भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) के 32 अधिकारियों के तबादले के आदेश जारी किये। कार्मिक विभाग की ओर से जारी आदेश के अनुसार, उदयपुर सहित 10 जिलों के पुलिस अधीक्षकों के तबादले किये गये हैं। उदयपुर के पुलिस महानिरीक्षक हिंगलाज दान को पद से हटाकर मानवाधिकार का जिम्मा दिया गया है। वहीं, प्रफुल्ल कुमार को उदयपुर का पुलिस महानिरीक्षक बनाया गया है। कुमार इससे पूर्व आतंकवाद निरोधी दस्ता (एटीएस) में पुलिस महानिरीक्षक थे। उदयपुर के पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार का तबादला कोटा आरएएसी बटालियन में कमांडेंट द्वितीय के पद पर किया गया है।

सीएम ने पीड़ित परिवार से की मुलाकात

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने उदयपुर में हमले में मारे गए दर्जी कन्हैयालाल के घर पहुंचकर पीड़ित परिवार को ढांढस बंधाया। गहलोत ने कन्हैयालाल की तस्वीर पर पुष्पांजलि अर्पित की और शोकाकुल परिजनों से मिलकर उनका ढांढस बंधाया। मुख्यमंत्री ने उनके पुत्र यश और तरूण को सांत्वना दी और कहा कि दुख की इस घड़ी में सरकार उनके साथ है। मुख्यमंत्री ने कन्हैयालाल की पत्नी जशोदा से बात की और परिवारजनों को भरोसा दिलाया कि इस घटना में राज्य सरकार पूरी तरह सुनिश्चित करेगी कि पीडि़त परिवार को त्वरित न्याय मिले और अपराधियों को कठोरतम दंड मिले। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार इसके लिए प्रतिबद्ध है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री के निर्देश पर गृह राज्य मंत्री राजेन्द्र यादव ने जशोदा को राज्य सरकार की ओर से 50 लाख रुपये की सहायता राशि प्रदान की।

Leave a Comment