लागू हुआ नाइट कर्फ्यू: होली से पहले बड़ा फैसला, महाराष्ट्र रहेगा बंद

    3

    मुंबई: महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के चलते स्थिति लगातार बेकार होती जा रही है। देश में महामारी के चलते सबसे ज्यादा Maharashtra प्रभावित हुआ है। यहां पर तेजी से संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है। इस बीच कोविड-19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए राज्य की उद्धव ठाकरे सरकार ने बड़ा फैसला किया है। सरकार ने राज्य में रविवार यानी 28 मार्च से नाइट कर्फ्यू लागू करने का ऐलान किया है।

    अब महाराष्ट्र में इस रविवार से नाइट कर्फ्यू लागू होगा। इस बारे में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackeray) ने कहा कि खतरा अभी कम नहीं हुआ है। बल्कि यह और ज्यादा बढ़ गया है। लोगों को यह समझने की आवश्यकता है। उन्होंने आगे कहा कि अब सख्त कदम उठाना अनिवार्य हो गया है। जिले के डीएम स्थिति के आधार पर लॉकडाउन लगा सकते हैं।

    आपको बता दें कि महाराष्ट्र में एक बार फिर से कोरोना की रफ्तार बेकाबू हो चुकी है, जिसे देखते हुए सरकार अलर्ट हो गई है और एक्शन मोड में आ गई है। इस बीच संक्रमण की रफ्तार पर काबू पाने के लिए मुख्यमंत्री ठाकरे ने पूरे राज्य में 28 मार्च से नाइट कर्फ्यू लागू करने का ऐलान कर दिया है। इस दौरान रात 8 बजे से सुबह 7 बजे तक मॉल वगैरह बंद रहेंगे।

    CM उद्धव ठाकरे ने लोगों से अपील की है कि कोरोना वायरस गाइडलाइंस का सख्ती से पालन करें। गौरतलब है कि मुख्यमंत्री ने सभी जिलों के डीएम के साथ बैठक होने के बाद शुक्रवार को नाइट कर्फ्यू लगाने की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि हम लॉकडाउन नहीं लगाना चाहते हैं, लेकिन कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर ऐसा लगता है कि वर्तमान हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर कम हो सकता है।

    ऐसे में सभी जिलों को हेल्थ सुविधाओं की गहनता से पड़ताल करने के निर्देश दिए गए हैं। इसी के साथ मुख्यमंत्री ठाकरे ने चेतावनी दी है कि अगर संक्रमितों की संख्या कम नहीं होती है तो और भी ज्यादा सख्त नियम लागू किए जा सकते हैं। इसके साथ ही सीएम ने मॉल्स, बार और होटल्स के लिए बनाए गए नियमों का पालन हो रहा है या नहीं इसकी जांच करने का आदेश दिया है।

    आपको बता दें कि इससे पहले महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री अजित पवार ने पुणे में प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा है कि हम कोरोना के मामलों की मॉनिटरिंग कर रहे हैं। दो अप्रैल तक स्थिति पर नजर रखी जाएगी और अगर लोग कोरोना गाइडलाइन्स का उल्लंघन करते रहे तो सरकार को मजबूरन लॉकडाउन लगाना पड़ेगा। इस बीच अजित पवार ने नई गाइडलाइन्स का भी ऐलान कर दिया।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here