महबूबा मुफ्ती ने केंद्र पर लगाया नजरबंद करने का आरोप, बोलीं- Jammu Kashmir में सामान्य स्थिति होने के दावों की खुली पोल

    0
    6

    Jammu and Kashmir: जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री एवं पीडीपी मुखिया महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) ने मंगलवार को दावा किया है कि उन्हें ‘घर में नजरबंद’ किया गया है। इस मामले में उन्होंने केंद्र सरकार पर भी निशाना साधा है। उन्होंने केंद्र सरकार के राज्य में स्थिति सामान्य होने के दावों को फर्जी करार दिया। दरअसल, महबूबा मुफ्ती आज अपने शेर-ए-कश्मीर स्थिति अपने पार्टी मुख्यालय का दौरा करने वाली थीं।

    महबूबा मुफ्ती ने किया ट्वीट

    पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (PDP) प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने प्रशासन पर आरोप लगाया है कि श्रीनगर स्थित उनके घर में उनको नजरबंद किया गया है। इस मामले में महबूबा मुफ्ती ने ट्वीट भी किया है। उन्होंने लिखा, ”भारत सरकार अफगानी लोगों के अधिकारों के लिए चिंता व्यक्त करती है, लेकिन जानबूझकर इन्हीं अधिकारों से कश्मीरियों को वंचित करती है। मुझे आज नजरबंद किया गया है क्योंकि प्रशासन के अनुसार कश्मीर में स्थिति सामान्य नहीं है। यह सामान्य स्थिति बताने के उनके दावों की पोल खोलता है।”

    50% for Advertising
    Ads Advertising with us AL News

    गौरतलब है कि अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी की मौत के बाद लगाए गए प्रतिबंधों में अब ढील दी गई है। जम्मू-कश्मीर पुलिस (Jammu and Kashmir Police) ने कहा है कि इंटरनेट सहित अधिकांश प्रतिबंधों में ढील दी गई है। कश्मीर और जम्मू दोनों संभागों में स्थिति पूरी तरह से सामान्य है, लेकिन सुरक्षा के सख्त इंतजाम किए गए हैं।

    आपको बता दें कि महबूबा मुफ्ती का ट्वीट अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी के निधन के बाद घाटी में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाने के बाद आया है। पीडीपी मुखिया ने कहा था कि अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी के परिवार को अंतिम संस्कार से वंचित करना मानवता के खिलाफ है और इससे जम्मू-कश्मीर के लोगों को दुख हुआ है। गिलानी के शव को उनके आवास के पास एक मस्जिद परिसर में स्थित कब्रिस्तान में दफनाया गया था।

     

    50% for Advertising
    Ads Advertising with us AL News
    Previous newsमंदिर श्री बांके बिहारी में छठी पर्व हर्षोल्लास से मनाया गया
    Next newsसुप्रीम कोर्ट में हॉकी को राष्ट्रीय खेल घोषित करने की याचिका रद्द, कोर्ट ने कहा- सरकार को सौपें ज्ञापन
    इस न्यूज़ पोर्टल अतुल्यलोकतंत्र न्यूज़ .कॉम का आरम्भ 2015 में हुआ था। इसके मुख्य संपादक पत्रकार दीपक शर्मा हैं ,उन्होंने अपने समाचार पत्र अतुल्यलोकतंत्र को भी 2016 फ़रवरी में आरम्भ किया था। भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से इस नाम को मान्यता जनवरी 2016 में ही मिल गई थी । आज के वक्त की आवाज सोशल मीडिया के महत्व को समझते हुए ही ऑनलाईन न्यूज़ वेब चैनल/पोर्टल को उन्होंने आरंभ किया। दीपक कुमार शर्मा की शैक्षणिक योग्यता B. A,(राजनीति शास्त्र),MBA (मार्किटिंग), एवं वे मानव अधिकार (Human Rights) से भी स्नातकोत्तर हैं। दीपक शर्मा लेखन के क्षेत्र में कई वर्षों से सक्रिय हैं। लेखन के साथ साथ वे समाजसेवा व राजनीति में भी सक्रिय रहे। मौजूदा समय में वे सिर्फ पत्रकारिता व समाजसेवी के तौर पर कार्य कर रहे हैं। अतुल्यलोकतंत्र मीडिया का मुख्य उद्देश्य राष्ट्रीय सरोकारों से परिपूर्ण पत्रकारिता है व उस दिशा में यह मीडिया हाउस कार्य कर रहा है। वैसे भविष्य को लेकर अतुल्यलोकतंत्र की कई योजनाएं हैं।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here