दुनियाभर में कोरोना के मामलों में बढ़ोत्तरी, बढ़ते आंकड़ों की सबसे बड़ी वजह सरकार की ढिलाई

Coronavirus : दो साल पहले चीन से फैली कोरोना महामारी ने पूरी दुनिया में अभी तक कहर ढाया हुआ है। इस महामारी से विश्व में अबतक 22.47 करोड़ लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। जबकि 46.33 लाख से ज्यादा की इस महामारी ने जान ले ली है। राहत की बात तो ये कि दुनिया में 5.64 अरब से ज्यादा लोगों का वैक्सीनेशन अबतक हो चुका है। ऐसे में भारत में कोरोना ( Coronavirus ) से होने मौत को लेकर सरकार ने नया फैसला सुनाया है। सरकार ने कहा है कि कोविड-19 पॉजिटिव होने के 30 दिन के अंदर किसी की मौत हॉस्पिटल या घर में हो जाती है तो डेथ सर्टिफिकेट पर मौत की वजह कोविड-19 ही बताई जाएगी।

भारत में कोरोना को ध्यान में रखते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय और इंडियन काउंसिल फॉर मेडिकल रिसर्च (ICMR) ने 3 सितंबर को नई गाइडलाइन जारी की। जिसके अनुसार, अब सरकार ने कोविड-19 से होने वाली मौतों के लिए सर्कुलर जारी किया है। इसमें कोरोना की पुष्टि होने के बाद अगर कोई मरीज हॉस्पिटल से डिस्चार्ज भी हो जाए, तो भी टेस्ट के 30 दिनों के भीतर बाहर मौत होने पर कोविड डेथ माना जाएगा।

दुनिया में बढ़ रहे कोरोना मामलों को लेकर जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी ने पुष्टि की है कि मौजूदा समय में बढ़ते मामलों का एक बड़ा कारण वैश्विक महामारी कोरोना को लेकर सरकारों की ढिलाई भी है।

इस बारे में शनिवार सुबह अपने नए अपडेट में, यूनिवर्सिटी के सेंटर फॉर सिस्टम साइंस एंड इंजीनियरिंग (सीएसएसई) ने जानकारी दी कि वर्तमान वैश्विक मामले और मृतक संख्या लगातार बढ़ रहे हैं। लेकिन टीकाकरण को लेकर भी लोगों में सक्रियता दिखाई दे रही है।

ऐसे में न्यूजीलैंड ने कोरोना के आकड़ों पर नजर डालते हुए शनिवार को कहा कि बीते 24 घंटों में देश में 23 नए कोरोना संक्रमण के मामले सामने आए हैं। ऐसे में 23 मामले आने से कीवी देश के कोरोना संक्रमण को पूरी तरह से खत्म करने के प्रयासों को बड़ा धक्का लगा है। बताया जा रहा है कि ये सारे मामले ऑकलैंड से आए हैं।

दुनिया को तबाही की तरफ ले जाने वाले चीन में कोरोना संक्रमण के 25 नए मामले मिले है। वहीं इससे पहले यहां पर 17 मामले दर्ज किए गए थे। बढ़ते मामलों के बारे में बताया गया कि सिर्फ एक मामला स्थानीय रहा और बाकी संक्रमण के मामले बाहर से आए लोगों में रिपोर्ट हुए। जबकि ऑस्ट्रेलिया के क्वींसलैंड में भी तेजी से मामले बढ़े हैं। शनिवार को यहां लॉकडाउन का अलर्ट जारी किया गया है।

 

Leave a Comment