इमरान के मंसूबों पर फिरा पानी, Taliban ने कश्मीर मामले पर दखल से किया इनकार, कहा- भारत और PAK का आपसी विवाद

    0
    0

    Taliban-Pakistan: पाकिस्तान (Pakistan) हमेशा से ही तालिबान (Taliban) और दूसरे आतंकी संगठनों का साथ देते आया है। अब अफगानिस्तान (Afghanistan) में एक बार फिर तालिबान की सरकार बनने जा रही है। ऐसे में पाकिस्तान की मंशा तालिबान का इस्तेमाल कर भारत के कश्मीर से जुड़े अपने नापाक मंसूबे पूरे करना है।

    लेकिन अब तालिबान ने पाकिस्तान को तगड़ा झटका दे दिया है, जिससे पाक की इमरान सरकार के नापाक मंसूबों पर पानी फिर गया है। तालिबान ने साफ कहा है कि वह कश्मीर (Kashmir) मामले में दखल नहीं देगा। दरअसल, पिछले दिनों तालिबान के प्रवक्ता के हवाले से मीडिया में एक बात सुर्खियों में थी, जिसमें वो कह रहे थे कि ‘कश्मीरी मुस्लिम के लिए आवाज उठाएंगे’। हालांकि, अब उसी प्रवक्ता ने दावा किया है कि उनकी बात को तोड़-मरोड़कर पेश किया गया।

    50% for Advertising
    Ads Advertising with us AL News

    पाकिस्तान को तालिबान ने दिया तगड़ा झटका

    तालिबान के प्रवक्ता सुहैल शाहीन ने पाक की नापाक मंसूबों पर पानी फेरते हुए साफ किया कि कश्मीर भारत और पाकिस्तान के आपस का मामला है और उनका संगठन इसमें कोई दखल नहीं देगा। तालिबान के इस स्टैंड से पाकिस्तान को तगड़ा झटका लगा है, जो अफगानिस्तान पर हाल ही में कब्जा जमाने वाले कट्टरपंथी गुट से मदद की उम्मीद लगाए बैठा है।

    कश्मीर मामले में दखल देने से साफ इनकार

    तालिबानी प्रवक्ता ने कहा कि कश्मीरी मुस्लिम पर उनकी बात को जिस तरह पेश किया गया, उससे वह भी हैरान हैं। उन्होंने अपनी बात को समझाते हुए कहा कि जिस तरह कहीं भी हिंदू या सिखों के खिलाफ होने वाले मानवाधिकार के हनन पर भारत सरकार अपनी बात रखती है, उसी तरह मुस्लिमों के खिलाफ इस तरह की बात होने पर हम अपना नजरिया रखेंगे। तालिबानी प्रवक्ता ने कहा कि कश्मीर भारत और पाकिस्तान के बीच मसला है और हम चाहते हैं कि दोनों शांतिपूर्वक आपस में सुलझाएं।

    सुहैल ने कहा कि हमारा संगठन किसी देश में दखल नहीं देगा, बल्कि अफगानिस्तान (Afghanistan) के पुनर्निर्माण पर फोकस करेगा। हम मानवाधिकार उल्लंघनों पर अपनी राय रखेंगे, इसका मतलब यह नहीं कि बंदूक उठाकर दखल देंगे।

    50% for Advertising
    Ads Advertising with us AL News
    Previous newsरामलीला महासंघ ने मंचन से पहले CM केजरीवाल को लिखा पत्र, गाइडलाइंस जारी करने की उठाई मांग
    Next newsअगले तीन दिनों में इन राज्यों में होगी भारी बारिश
    इस न्यूज़ पोर्टल अतुल्यलोकतंत्र न्यूज़ .कॉम का आरम्भ 2015 में हुआ था। इसके मुख्य संपादक पत्रकार दीपक शर्मा हैं ,उन्होंने अपने समाचार पत्र अतुल्यलोकतंत्र को भी 2016 फ़रवरी में आरम्भ किया था। भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से इस नाम को मान्यता जनवरी 2016 में ही मिल गई थी । आज के वक्त की आवाज सोशल मीडिया के महत्व को समझते हुए ही ऑनलाईन न्यूज़ वेब चैनल/पोर्टल को उन्होंने आरंभ किया। दीपक कुमार शर्मा की शैक्षणिक योग्यता B. A,(राजनीति शास्त्र),MBA (मार्किटिंग), एवं वे मानव अधिकार (Human Rights) से भी स्नातकोत्तर हैं। दीपक शर्मा लेखन के क्षेत्र में कई वर्षों से सक्रिय हैं। लेखन के साथ साथ वे समाजसेवा व राजनीति में भी सक्रिय रहे। मौजूदा समय में वे सिर्फ पत्रकारिता व समाजसेवी के तौर पर कार्य कर रहे हैं। अतुल्यलोकतंत्र मीडिया का मुख्य उद्देश्य राष्ट्रीय सरोकारों से परिपूर्ण पत्रकारिता है व उस दिशा में यह मीडिया हाउस कार्य कर रहा है। वैसे भविष्य को लेकर अतुल्यलोकतंत्र की कई योजनाएं हैं।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here