क्लीनिक पर हेल्थ विभाग का छापा:लिंग जांच का भंडाफोड़, दंपती गिरफ्तार, 15 हजार रुपए लेकर यूपी में कराते थे गर्भपात

    9

    हेल्थ विभाग ने बल्लभगढ़ स्थित एक क्लीनिक पर छापेमारी कर लिंग जांच और गर्भपात गिरोह का फंडाभोड़ किया है। इस मामले में पुलिस ने एक दंपती को भी गिरफ्तार किया है। विभाग को सूचना मिली थी कि क्लीनिक में लिंग जांच के बाद गर्भपात कराने के लिए महिलाओं को यूपी ले जाया जाता है। इसके बाद सीएमओ ब्रह्मदीप ने डॉ. प्रवीण के नेतृत्व में कार्रवाई के लिए एक टीम गठित की।

    15 हजार रुपए में कराते थे गर्भपात
    इसके बाद एक नकली ग्राहक तैयार कर उसे 15 हजार रुपए देकर बल्लभगढ़ की भगत सिंह कॉलोनी स्थित चौहान क्लीनिक भेजा गया। वहां उससे 15 हजार रुपए लेकर कहा गया कि सुबह सात बजे तुम्हारा काम हो जाएगा। इसके लिए तुम्हे हमारे साथ यूपी के संभल जिले के बहजोई चलना पड़ेगा। वहां लैब टेक्नीशियन अमित कुमार गर्भपात कराएगा। इसी दौरान इशारा मिलते ही शाम करीब चार बजे टीम ने छापा मारकर 15 हजार रुपए दंपत्ति से बरामद कर लिए। दंपत्ति के पास मेडिकल की डिग्री नहीं है।

    टीम के अनुसार चौहान क्लीनिक के संचालक का नाम डॉ. सुंदरपाल चौहान है। जो खुद को बीएएमएस बताता है, लेकिन उसके पास से टीम को कोई डिग्री नहीं मिली। उसकी पत्नी ने अपना नाम अंजू चौहान बताया। उसने अपने को जीएनएम बताया। लेकिन उसके पास से भी कोई डिग्री नहीं मिली। सीएमओ के अनुसार दोनों घर में ही डिलीवरी व एमटीपी करते हैं। टीम ने क्लीनिक से प्रयोग की गई एमटीपी किट और गर्भपात करने वाले कुछ औजार बरामद किए हैं। इसके बाद पलवल हेल्थ विभाग की टीम ने फरीदाबाद स्वास्थ्य विभाग की टीम को मौके पर बुलाया। पुलिस ने केस दर्ज कर दोनों को हिरासत में ले लिया। सीएमओ डा. ब्रह्मदीप के अनुसार दोनों पलवल क्षेत्र की गर्भवती महिलाओं को उत्तर प्रदेश व दिल्ली में अल्ट्रासाउंड जांच व गर्भपात कराने के लिए 15 से 20 हजार रुपए लेते थे।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here