मोहन भागवत बोले – CAA पर सरकार को पीछे हटने की जरूरत नहीं

    0
    11

    Uttar Pardesh/Atulya Loktantra: उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) प्रमुख मोहन भागवत ने गुरुवार को जिज्ञासा और समाधान सत्र में स्वयंसेवकों के सवालों का बेबाकी से जवाब दिया. इस दौरान मोहन भागवत ने कहा कि राम मंदिर निर्माण के लिए ट्रस्ट के बनते ही संघ अपने आपको इससे अलग कर लेगा. साथ ही संघ प्रमुख ने कहा कि काशी और मथुरा RSS के एजेंडे में नहीं है. उन्होंने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) देशहित में है, इससे पीछे हटने की जरूरत नहीं है.
    राम मंदिर पर भूमिका सीमित

    मोहन भागवत बोले – CAA पर सरकार

    मोहन भागवत बोले - CAA पर सरकार
    मोहन भागवत बोले – CAA पर सरकार

    संघ प्रमुख गुरुवार की सुबह कार्यक्रम स्थल मुरादाबाद इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (एमआइटी) में लगी शाखा में शामिल हुए. इसके बाद शाम को चार बजे से साढ़े पांच बजे तक जिज्ञासा और समाधान सत्र में हिस्सा लेने पहुंचे. इस कार्यक्रम में आरएसएस के क्षेत्रीय कार्यकारिणी के चुनिंदा 40 पदाधिकारी मौजूद थे. इस दौरान स्वयंसेवकों ने संघ प्रमुख मोहन भागवत से देश की मौजूदा स्थिति पर सवाल पूछा और उन्होंने सभी सवालों का पूरी सादगी से जवाब दिया.

    मोहन भागवत बोले – CAA पर: संघ के जिज्ञासा और समाधान सत्र में एक स्वयंसेवक ने पूछा कि क्या अयोध्या के बाद अब संघ काशी और मथुरा का मुद्दा उठाएगा तो संघ प्रमुख ने साफ तौर पर इनकार कर दिया. उन्होंने कहा कि फिलहाल संघ के एजेंडे में काशी और मथुरा मुद्दा नहीं है. साथ ही राम मंदिर पर कहा कि संघ की भूमिका इस प्रकरण में सिर्फ ट्रस्ट निर्माण होने तक है. इसके बाद संघ खुद को इससे अलग कर लेगा.

    सीएए से पीछे हटने की जरूरत नहीं-संघ प्रमुख

    सूत्रों की मानें तो नागरिकता संशोधन कानून पर पूछे गए सवाल पर संघ प्रमुख ने कहा कि स्वयंसेवकों को उत्तर दिया कि सीएए पर पीछे हटने की कोई जरूरत नहीं है और न ही विरोध से चिंतित होने की जरूरत है क्योंकि सभी जानते हैं कि यह कानून देशहित में है. संघ प्रमुख ने कहा कि सीएए को लेकर देश में कुछ लोग भ्रम की स्थिति पैदा कर रहे हैं, हम सभी की जिम्मेदारी है कि इस भ्रम को दूर किया जाए. उन्होंने स्वयंसेवकों से अपील करते हुए कहा कि सेमिनार, गोष्ठी और बैठकों के जरिए नागरिकता संशोधन कानून पर लोगों के भ्रम दूर करें

    Previous Most Popular News StoriesNPR पर केंद्रीय गृह मंत्रालय की अहम बैठक, पश्चिम बंगाल ने किया किनारा
    Next Most Popular News Storiesझारखण्ड के विधायक का फरीदाबाद में हुआ भव्य स्वागत
    इस न्यूज़ पोर्टल अतुल्यलोकतंत्र न्यूज़ .कॉम का आरम्भ 2015 में हुआ था। इसके मुख्य संपादक पत्रकार दीपक शर्मा हैं ,उन्होंने अपने समाचार पत्र अतुल्यलोकतंत्र को भी 2016 फ़रवरी में आरम्भ किया था। भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से इस नाम को मान्यता जनवरी 2016 में ही मिल गई थी । आज के वक्त की आवाज सोशल मीडिया के महत्व को समझते हुए ही ऑनलाईन न्यूज़ वेब चैनल/पोर्टल को उन्होंने आरंभ किया। दीपक कुमार शर्मा की शैक्षणिक योग्यता B. A,(राजनीति शास्त्र),MBA (मार्किटिंग), एवं वे मानव अधिकार (Human Rights) से भी स्नातकोत्तर हैं। दीपक शर्मा लेखन के क्षेत्र में कई वर्षों से सक्रिय हैं। लेखन के साथ साथ वे समाजसेवा व राजनीति में भी सक्रिय रहे। मौजूदा समय में वे सिर्फ पत्रकारिता व समाजसेवी के तौर पर कार्य कर रहे हैं। अतुल्यलोकतंत्र मीडिया का मुख्य उद्देश्य राष्ट्रीय सरोकारों से परिपूर्ण पत्रकारिता है व उस दिशा में यह मीडिया हाउस कार्य कर रहा है। वैसे भविष्य को लेकर अतुल्यलोकतंत्र की कई योजनाएं हैं।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here