‘गुजरात के सचिवालय में भी सिर्फ़ रात को मिले बिजली’, केजरीवाल बोले- किसानों को भरना पड़ता है 5-5 हजार का बिल

अहमदाबाद। गुजरात में आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक दलों ने अपने-अपने दौरे तेज कर दिए हैं। इसी बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने अहमदाबाद में बिजली संवाद किया। इस दौरान मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में 73 फीसदी लोगों के बिजली बिल जीरो आते हैं और 24 घंटे बिजली मिलती है।

उन्होंने कहा कि मेरा दिल लोगों के दुख सुनकर रो पड़ता है। ग़रीब का बिजली बिल हज़ारों में आएगा तो वो बच्चों को कैसे पढ़ाएगा? अपने परिवार को रोटी कैसे खिलाएगा ? आखिर गुजरात के भीतर इतनी महंगी बिजली क्यों है। गुजरात में मंत्री ऐश कर रहे हैं। उनका हज़ारों यूनिट का बिल भी शून्य आता है, उनके दफ्तरों और कईयों के शायद बाथरूम में भी एसी लगे हुए हैं और गरीब का एक पंखे और बल्ब का बिल हजारों में आता है।

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि भाजपा किसानों को रात को बिजली देती है। किसानों को हर महीने 5-5 हज़ार रुपए का बिल देना पड़ता है। गुजरात के सचिवालय में भी सिर्फ़ रात को बिजली आनी चाहिए। मंत्रियों को भी रात में काम करना चाहिए। अगर सारी रात किसान जागेगा तो सोएगा कब और अपनी जिंदगी कब जिएगा ? उन्होंने कहा कि किसानों को 6-7 घंटे की बिजली ही मिलती है, नए कनेक्शन नहीं मिलते हैं। सालों की वेटिंग लिस्ट है और 6 घंटे जो बिजली मिलती है उसमें भी पॉवर कट लगते हैं।

Leave a Comment