DSP नूह की हत्या के एक माह बाद पुन; पुलिस पर हमला,सरकार की नाकामी को दर्शाता है डॉ सुशील गुप्ता

Chandigarh (अतुल्य लोकतंत्र ): हरियाणा के नूंह में अवैध खनन में लिप्त बदमाशों के हौंसले बुलंद हैं,डीएसपी सुरेंद्र सिंह विश्नोई की हत्या के एक महीने के अंदर ही बदमाशों ने एक बार फिर पुलिस और प्रशासनिक टीम पर जानलेवा हमला किया है। इस घटना से एक बार फिर साफ हो गया है कि प्रदेश में भाजपा का शासन नहीं, बल्कि बदमाशों का राज चल रहा है। यह कहना है आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रभारी व राज्यसभा सांसद डा सुशील गुप्ता का।

उन्होंने कहा कि वह लगातार हरियाणा में कानून राज समाप्त होने की बात को जनता के बीच उठाते रहें है। लेकिन हद तो तब हो जाती है कि बदमाशों के हौसले इतने बुलंद हो चुके है कि वह पुलिस तक को अपनी पहुंच के सामने घुटने टेकने के लिए मजबूर कर देते है। वरना क्या कारण है कि डीएसपी सुरेन्द्र सिंह की हत्या के एक महीनें बाद फिर से अवैध खन्न करने वाले पुलिस से आमने खडे होकर अपने काम को अंजाम दे रहे है।

मालूम हो कि बीते शुक्रवार की शाम पुलिस और अवैध खनन करने वाले बदमाशों ने पुलिस को खदेड दिया। जिसके बाद पुलिस ने इस मामले में 50 से अधिक लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। वहीं अधिक पुलिस बल पहुंचने के बाद पांच बदमाशों की पहचान के साथ-साथ मौके से तीन पोकलैंड मशीन जब्त की बात कही गई है।
डा गुप्ता ने आरोप लगाया कि आज भी पुलिस और प्रशासन की नाक के नीचे अवैध खनन करने वाले बदमाश अपने राजनीतिक आकाओं के सरक्षण में उक्त काम को जारी रखे हुए हैं।

जबकि 19 जुलाई को डीएसपी सुरेंद्र सिंह की हत्या के बाद अब भी अवैध खनन माफियाओं के हौसले बुलंद है, आज भी पुलिस टीम को देखकर खनन माफिया के लोग उस पर हमला बोल देते हैं। इस ताजा घटना में तो कई पुलिसकर्मी समेत अधिकारी और कर्मचारी घायल कर भाग जाते है।
उन्होंने मुख्यमंत्री मनोहर लाल खटटर पर आरोप लगाया कि यह काम उनकी सरकार की सहमति और राजनीति आकाओं के संरक्षण के बिना नहीं किया जा सकता।
डा सुशील गुप्ता ने कहा अगर पुलिस पर भी इसी तरह बदमाशों के हमले होते रहे तो जनता का पुलिस और प्रशासन से विश्वास उठ जायेगा, तथा जनता खूद ही सडक पर उतर कर इंसाफ करनें लगेगी। उन्होंने सरकार से जल्द से जल्द कडा निर्णय लेने और बदमाशों को गिरफतार करने की मांग की है।

Leave a Comment