शीतकहर: शीतलहर हुई तेज, माइनस में जा सकता है पारा

0

Chandigarh/Atulya Loktantra: हिंद महासागर में चक्रवात, पश्चिमी विक्षोभ से पहाड़ों पर भारी बर्फबारी और मैदानों में बारिश के बाद उत्तर और मध्य भारत एक बार फिर शीतलहर की चपेट आ गया हैं। रात के साथ ही दिन में भी सुन्न कर देने वाली ठंड पड़ने लगी है। मंगलवार को न्यूनतम तापमान हरियाणा में तकरीबन सभी जिलों में 4 डिग्री सेल्सियस से कम रहा। हिसार में यह 0 डिग्री पर आ गया। यह सामान्य से 7 डिग्री कम है। दिसंबर माह में यह 2 साल की सबसे ठंडी रात रही। पिछले साल 28 दिसंबर को 0.2 डिग्री पारा रहा था। 2018 में 26 दिसंबर को यह माइनस 1 डिग्री था।

दिन का तापमान सिरसा में 12 डिग्री पर आ गया, जो सामान्य से 9 डिग्री कम है। सुबह कई जिलों में पाला भी जमा। तेज शीतलहर ने कंपकंपा दिया। दोपहर में धूप निकलने से कुछ राहत मिली। मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि अगले तीन दिन सीवियर कोल्ड के आसार हैं। रात का पारा 2 डिग्री तक कम हो सकता है। कहीं-कहीं यह माइनस में भी जा सकता है। इससे पाला जमेगा। कहीं-कहीं धुंध भी गहरा सकती है। मौसम विभाग ने साल के आखिरी दिन शीतलहर को लेकर ऑरेंज और नए साल के लिए येलो अलर्ट जारी किया है।

दिन रात में कहां कितना रहा तापमान
हिसार 0.0 15.0
नारनौल 0.3 20.0
जींद 0.5 17.6
रेवाड़ी 1.0 16.5
सिरसा 2.5 12.0
करनाल 2.6 15.4
रोहतक 2.6 14.6
अम्बाला 3.5 15.4
भिवानी 3.0 14.0
फरीदाबाद 4.0 16.2
गुड़गांव 3.0 16.5
कुरुक्षेत्र 3.0 15.5

4 जनवरी को बारिश और ओले के आसार
4 जनवरी से पश्चिमी विक्षोभ के असर से पहाड़ों में बर्फबारी और मैदानी इलाकों में बारिश के साथ ओले गिर सकते हैं। बरसात के बाद फिर से पहाड़ों से मैदानों में कड़ाके की ठंड लौटेगी। यानी जनवरी के पहले और दूसरे सप्ताह में ठंडक जारी रहेगी।

अपनी सलाह दे (देश की आवाज)

Please enter your comment!
Please enter your name here