एंटीलिया केस में बड़ी खबर: NIA की कस्टडी में रहेंगे शिंदे और नरेश

    5

    मुंबई: एंटीलिया केस (Antilia Case) में स्कॉर्पियो के मालिक मनसुख हिरेन की हत्या के मामले (Mansukh Hiren Death Case) में मुंबई की एक अदालत ने विनायक शिंदे और नरेश की हिरासत NIA को सौंप दी है। अब दोनों सात अप्रैल तक राष्ट्रीय जांच एजेंसी की हिरासत में रहेंगे। दोनों से एजेंसी मामले में पूछताछ करेगी।

    वहीं, इस बीच सचिन वाजे (Sachin Waze) को लेकर खबर आ रही है कि मुंबई पुलिस के निलंबित अधिकारी की एक और कार नवी मुंबई से जब्त की गई है। आपको बता दें कि इससे पहले NIA आरोपी सचिन वाजे को रविवार यानी 28 मार्च को जांच के सिलसिले में मुंबई के बांद्रा कुर्ला कॉम्प्लेक्स में मीठी नदी के पुल पर लेकर गई थी।

    इस दौरान नदी में गोताखोरों ने एक कम्प्यूटर, एक सीपीयू, एक वाहन की नंबर प्लेट समेत कई अन्य अहम सबूत बरामद किए थे। एनआईए को मिलीं नंबर प्लेट पर एक ही नंबर MH02FP1539 लिखा हुआ है। फिलहाल मीठी नदी में सर्च ऑपरेशन जारी है और इसके साथ ही कुछ और अहम सुराग मिलने की उम्मीद जताई जा रही है।

    एनआईए कसे मुताबिक, मुंबई पुलिस के निलंबित अधिकारी सचिन वाजे से अब तक की पूछताछ के बाद उसे कई अहम सबूत हाथ लगे हैं। फिलहाल वाजे तीन अप्रैल तक NIA की हिरासत में रहेगा। इस दौरान पूछताछ में कुछ और राज खुलने की उम्मीद हैं।

    गौरतलब है कि 25 फरवरी को देश के सबसे बड़े बिजनेसमैन मुकेश अंबानी के आवास एंटीलिया के पास एक स्कॉर्पियो कार बरामद हुई थी। जिसके अंदर कुछ जिलेटिन की छड़े बरामद की गई थीं। इस मामले की शुरुआती जांच सचिन वाजे को सौंपी गई थी। लेकिन बाद में शक होने पर उसे इस मामले से हटा दिया गया। बाद में इस केस की जांच एनआईए को मिली।

    कहा जा रहा है कि सचिन वाजे ने ही इस मामले को अंजाम दिया है। उसने अपनी काबिलियत साबित करने के लिए इस कांड को अंजाम दिया। इसके अलावा सचिन वाजे के खिलाफ ठाणे के बिजनेसमैन मनसुख हिरेन की संदिग्ध मौत की भी जांच हो रही है। मनसुख हिरेन का शव 5 मार्च को मुंबई के पास क्रीक पर मिला था। एंटीलिया के बाहर मिली स्कॉर्पियो कार का मालिक हिरेन ही था।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here