अग्निपथ योजना पर बोले भूपेश बघेल, नौजवानों को सैनिक नहीं, चौकीदार बनाना चाहती है केंद्र सरकार

नयी दिल्ली। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने तीनों सेनाओं में भर्ती की नयीअल्पकालिक ‘अग्निपथ योजना’ को लेकर सोमवार को केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि देश के सभी नौजवानों को चौकीदार बनाने का प्रयास किया जा रहा है। ‘अग्निपथ योजना’ के खिलाफ यहां आयोजित कांग्रेस के ‘सत्याग्रह’ में शामिल हुए बघेल ने यह दावा भी किया कि इस योजना से युवाओं का भविष्य, देश की सीमा और सुरक्षा खतरे में पड़ जाएगी। बघेल ने कहा, ‘‘हिंदुस्तान की सीमाओं की रक्षा करने वालों के साथ केंद्र सरकार अपमानजनक व्यवहार कर रही है।

इस योजना से युवाओं का भविष्य, देश की सीमा और सुरक्षा खतरे में है।’’ उन्होंने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार सभी नौजवानों को सैनिक नहीं, चौकीदार बनाना चाहती है। बघेल ने ‘नेशनल हेराल्ड’ से जुड़े कथित धनशोधन के मामले में प्रवर्तन निदेशालय की कार्रवाई को लेकर सवाल खड़े करते हुए कहा, ‘‘महंगाई, बेरोजगारी और राफेल घोटाले के खिलाफ राहुल गांधी ने आवाज उठाई, यही कारण है कि उनकी आवाज को केंद्र सरकार बंद करना चाहती है। भाजपा कांग्रेस को कमजोर करना चाहती है, इसलिए ईडी के माध्यम से राहुल गांधी को बदनाम करने की कोशिश की जा रही है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘भाजपा का एकमात्र उद्देश्य उस आवाज को बंद कर देना है, जो देश के दबे कुचले, शोषित लोगों की आवाज बन गयी है।

Leave a Comment